राजनीति

संविधान बचाओ रैली पर सीएम फडणवीस ने कहा- संविधान खुद करता है आपकी रक्षा

icon अमितेष युवराज सिंह | 0
1422
| जनवरी 27 , 2018 , 10:21 IST

26 जनवरी के मौके पर विपक्षी दलों ने मुंबई में 'संविधान बचाओ' रैली निकाली। ये रैली ओवल मैदान से शुरू होकर गेटवे ऑफ़ इंडिया पर ख़त्म हुई। ये रैली शरद पवार के नेतृत्व में निकाली गई। संविधान बचाओ मार्च में पवार के अलावा माकपा नेता सीताराम येचुरी, जदयू से निष्कासित शरद यादव, भाकपा के डी राजा, गुजरात के पाटीदार नेता हार्दिक पटेल, तृणमूल कांग्रेस के दिनेश त्रिवेदी, कांग्रेस के सुशील कुमार शिंदे और राज्य के अन्य कई नेताओं ने हिस्सा लिया।

मीडिया से बातचीत में पवार ने कहा कि समान विचार वाले दलों ने साथ में आने का और संविधान 'बचाने के लिए रैली निकालने का सामूहिक फैसला किया था। उन्होंने कहा, ''अगर हम इसके खिलाफ अपनी आवाज नहीं उठाएंगे तो यह राष्ट्र और संविधान के लिए नुकसानदेह होगा। पूर्व केंद्रीय मंत्री ने कहा कि विपक्षी दलों के नेता आगे की बातचीत 29 जनवरी को राष्ट्रीय राजधानी में करेंगे।

भाजपा की तिरंगा रैली:

विपक्ष की संविधान बचाओ रैली के जवाब में बीजेपी ने तिरंगा एकता यात्रा का आयोजन किया जिसमें महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस समेत पार्टी के कई नेता शामिल हुए.

मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने कहा- संविधान खुद है आपका रक्षक:

विपक्षी दलों की 'संविधान बचाओ' रैली पर महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि देश को लूटने वाले लोग आज संविधान बचाओ रैली निकाल रहे हैं। उन्होंने सवाल उठाया कि सभी विपक्षी पार्टियां मिलकर भी अपने विरोध प्रदर्शन रैली में 1800 लोगों को नहीं जुटा पाईं, तो ये लोग भारतीय संविधान को कैसे बचा सकते हैं? फडणवीस ने कहा कि इस संविधान को कौन बचाएगा। यह खुद ही दूसरों की रक्षा करता है।

इस संविधान के कारण ही मैं आज भारत का नागरिक बना हूं। इस संविधान ने ही मुझे अधिकार दिए हैं। उन्होंने आगे कहा कि डॉ. बाबासाहेब अंबेडकर के संविधान को जिस किसी ने बदलने की कोशिश की, उन्हें संविधान ने उनकी जगह दिखा दी। उन्होंने कहा कि यह संविधान बचाओ रैली वास्तविकता में पक्ष बचाओ रैली है। ये लोग अपनी पार्टी को बचाने के लिए रैली निकाल रहे हैं और उसका नाम संविधान रैली दे रहे हैं।


author
अमितेष युवराज सिंह

लेखक न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया में असिस्टेंट एग्जीक्यूटिव एडिटर हैं

कमेंट करें