राजनीति

SC-ST ऐक्ट का विरोध तेज, जन आशीर्वाद रैली में CM शिवराज के रथ पर चले पत्थर

आशुतोष कुमार राय, न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
1958
| सितंबर 3 , 2018 , 08:58 IST

केन्द्र सरकार द्वारा लागू किए गए SC/ST एक्ट संसोधन के बाद से बीजेपी के नेताओं को जबरदस्त विरोध का सामना करना पड़ रहा है। इसका एक उदाहरण मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के साथ देखने को मिला और जन आशीर्वाद रैली में मुख्यमंत्री के काफिले पर पथराव हो गया। हालांकि फेंकने की घटना में किसी को भी चोट तो नहीं लगी, लेकिन सीएम के रथ के शीशे जरूर चटक गए। पत्थर किसने फेंका इसकी पुष्टि नहीं हुई लेकिन घटना के बाद बीजेपी ने इसके लिए कांग्रेस को ज़िम्मेदार ठहराया है।

Master

बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह ने कांग्रेस पर आरोप लगाते हए ट्वीट किया और लिखा, 'चुरहट विधानसभा क्षेत्र में शिवराज सिंह चौहान की जन आशीर्वाद यात्रा के रथ पर किया गया पथराव कायराना हरकत है। सभ्य समाज में ऐसी हरकतों को बर्दाश्त नहीं किया जा सकता. जनता इस कायरता का करारा जवाब कांग्रेस को देगी'।

वहीं मध्यप्रदेश बीजेपी के मीडिया प्रभारी लोकेंद्र पराशर ने ट्वीट करते हुए कहा कि चुरहट में जन आशीर्वाद यात्रा को मिले अपार जनसमर्थन से लोग कायरों की तरह पथराव पर उतर आए। पूरे प्रदेश की जनता और ईश्वर मुख्यमंत्री के साथ हैं। कायराना हरकत करने वालों, जनता तुम्हारी कायरता का करारा जवाब देगी।

सत्तारुढ़ बीजेपी ने इसे कांग्रेस की साजिश करार दिया है। लेकिन कांग्रेस के नेता इसे बेबुनियाद आरोप करार दिया है। सवर्ण कर्मचारियों का संगठन सपाक्स लंबे समय से प्रमोशन में आरक्षण का विरोध कर रहा है। अपनी इस मुहिम में उसने समाज को भी जोड़ा है। इस मुहिम का सीधा असर कई जिलों में देखने को मिला। नीमच जिले में बड़ी संख्या में लोगों ने सड़कों पर उतर कर विरोध किया।

दिखाए गए काले झंडे-:

सीधी जिले के मायापुर में जब शिवराज सिंह चौहान की जन आशीर्वाद यात्रा पहुंची तो विरोध स्वरूप लोगों ने सीएम शिवराज को काले झंडे दिखाए। अब ये पता लगाने की कोशिश की जा रही है कि काले झंडे दिखाने वाले किसी राजनैतिक संगठन से थे या एससी- एसटी एक्ट एक्ट का विरोध करने वाले संगठनों से जुड़े हुए लोग थे क्योंकि रविवार को पूरे प्रदेश में नेताओं को एससी- एसटी एक्ट पर विरोध का सामना करना पड़ा है।


कमेंट करें