नेशनल

ब्लू व्हेल: टास्क पूरा करने के लिए 25 बार काटा हाथ, जान बचाने के लिए लगाए 100 टांके

icon अमितेष युवराज सिंह | 0
1980
| अक्टूबर 24 , 2017 , 13:56 IST

इंटरनेट गेम ब्लू व्हेल खेल रही 19 साल की लड़की ने धारदार हथियार से हाथ पर 25 कट लगा लिए। इसके बाद भी वह सुसाइड में कामयाब नहीं हुई तो छत से कूदकर जान देने की कोशिश की। फैमिली मेंबर्स उसे हॉस्पिटल ले गए, जहां डॉक्टर्स ने जख्मों पर 100 टांके लगाकर जान बचाई। लड़की मध्य प्रदेश के झाबुआ की रहने वाली है और कुछ दिन पहले दाहोद में बहन के घर आई थी। बता दें कि रूस में बने इस सुसाइड गेम के चलते भारत, चीन, अमेरिका, ईरान समेत कई देशों के 150 से ज्यादा लोग जान दे चुके हैं।

जानकारी के मुताबिक, लड़की रविवार रात साढ़े तीन बजे बाथरूम में गई। जहां गेम का टास्क पूरा करने के लिए उसने 15 मिनट में हाथ पर कट लगा लिए। लड़की की हालत देखकर बहन की ससुरालवाले घबरा गए और उसे तुंरत हॉस्पिटल में भर्ती कराया। डॉक्टरों ने उसके 25 जख्मों पर 100 टांके लगाए, फिलहाल वह बहन के घर पर आराम कर रही है।

Blue-whale04_1508815

लड़की का इलाज करने वाले साइकोलॉजिस्ट ने बताया कि हम विक्टिम की दिमागी हालत पर बारीकी से नजर बनाए हुए हैं, क्योंकि उसने दो बार सुसाइड की कोशिश की है। फिलहाल उसकी हालत कंट्रोल में है।

कोई मुझे मारने की धमकी देता है: विक्टिम

पिता ने बताया कि बेटी पूरी रात मोबाइल में बिजी रहती थी, सोती ही नहीं थी। उसके बर्ताव में चिड़चिड़ापन आने पर 21 सितंबर को हॉस्पिटल भी ले गए थे, लेकिन मोहर्रम होने के चलते उसे भर्ती नहीं किया जा सका। वहीं, विक्टिम ने बताया कि कोई उससे कहता है कि तू मर जा नहीं तो मैं तुझे मार डालूंगा।

ब्लू व्हेल गेम नहीं एक ट्रैप है

टीन एजर्स गेम मानकर ब्लू व्हेल के जाल में फंस रहे हैं। पिछले कुछ दिनों से सोशल मीडिया पर ब्लू व्हेल ऐप तलाशे जा रहे हैं, लेकिन असल में यह न तो गेम है और न ही ऐप है। यह अपराधी किस्म के लोगों का एक ट्रैप (जाल) है, जो दुनियाभर में अब तक करीब 150 लोगों की जान ले चुके हैं। नासमझी में बच्चे इसके आसानी से शिकार बन रहे हैं।

Jhabua-3_1508785465

कहां बनाया गया ब्लू व्हेल?

‘ब्लू व्हेल’ के पीछे दिमाग है मास्को (रूस) के साइकोलॉजी स्टूडेंट फिलिप बुडेईकिन का। उसे गिरफ्तार किया जा चुका है और वह तीन साल की सजा काट रहा है। गेम से पहली मौक का मामला 2015 में आया था। गिरफ्तारी के बाद फिलिप ने कहा था, ''गेम का मकसद समाज की सफाई करना है। फिलिप की नजर में सुसाइड करने वाले सभी लोग 'बायो वेस्ट' (समाज के गैर-जरूरी) थे।''

Jhabhua-4_1508785464

कैसे खेला जाता है ब्लू व्हेल?

एडमिन की ओर से प्लेयर को रोज 50 दिन तक अलग-अलग टास्क दिए जाते हैं। फोटो शेयर कर टास्क पूरा होने का सबूत देना होता है। शुरुआती टास्क तो आसान होते हैं, लेकिन धीरे-धीरे टास्क खतरनाक होते जाते हैं। आखिर में प्लेयर को ऐसी हालत में पहुंचा दिया जाता है कि वो एडमिन के आखिरी टास्क को पूरा करने के लिए सुसाइड के लिए तैयार हो जाए।

 


author
अमितेष युवराज सिंह

लेखक न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया में असिस्टेंट एग्जीक्यूटिव एडिटर हैं

कमेंट करें