राजनीति

कांग्रेस अधिवेशन में बोले राहुल गांधी- देश को सिर्फ कांग्रेस पार्टी ही दिखा सकती है रास्ता

आशुतोष कुमार राय, न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
355
| मार्च 17 , 2018 , 13:25 IST

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने शनिवार को कहा कि वह सभी प्रतिनिधियों की मदद से मजबूत और नई ऊर्जा से भरपूर पार्टी का निर्माण करना चाहते हैं। राहुल ने यहां पार्टी के दो दिवसीय पूर्ण अधिवेशन का उद्घाटन करने के बाद अपने संबोधन में यह बात कही।

अपने अध्यक्ष बनने के बाद पहली बार आयोजित हुए महाधिवेशन में राहुल ने मोदी सरकार पर सीधा हमला बोलते हुए कहा, 'युवा और किसान जब मोदी जी की ओर देखते हैं तो वह सोचते हैं कि आखिर रास्ता कहां मिलेगा। देश को सिर्फ कांग्रेस पार्टी ही रास्ता दिखा सकती है। वो गुस्से का प्रयोग करते हैं और हम प्यार और भाईचारे का। कांग्रेस जो काम करेगी, वह पूरे देश के लिए करेगी।'

राहुल गांधी ने पार्टी के वरिष्ठ नेताओं को साथ लेकर चलने का भरोसा देते हुए कहा कि हम यहां भविष्य की योजना बनाने बैठे हैं, लेकिन बीते कल को भी नहीं भूलते। उन्होंने कहा कि मैं मंच से कहना चाहता हूं कि यदि युवा कांग्रेस को आगे ले जाएंगे तो यह काम वरिष्ठ नेताओं के बिना नहीं हो सकता।

कांग्रेस में राहुल के नेतृत्व में नई पीढ़ी और पुरानी पीढ़ी के नेताओं के बीच तालमेल को लेकर चिंता जताई जाती रही है। ऐसे में राहुल गांधी का वरिष्ठ नेताओं को साथ लेकर चलने का बयान मायने रखता है।

अधिवेशन में कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा कि कांग्रेस की सरकारों ने देश में विकास का काफी काम किया। उन्होंने कहा कि देश में आज अनाज की खदानें हैं, इसरो की शुरुआत, कंप्यूटर सब कांग्रेस के राज में ही हुआ है।

उन्होंने कहा कि जो लोग अंधे हैं उन्हें विकास नहीं दिखेगा। खड़गे ने कहा कि सिर्फ चाय वाला होने से कुछ नहीं होता, देश के लिए कुछ करना भी पड़ता है। आज देश में हर कोई परेशान है।

इसे भी पढ़ें-: लोकसभा उपचुनाव के नतीजों के बाद हरकत में योगी सरकार, यूपी में 37 IAS का तबादला

खड़गे ने कहा कि पिछले काफी समय से मैं चुनकर आ रहा हूं, क्योंकि कांग्रेस पार्टी मेरा साथ देती है। अगर कांग्रेस को कोई हरा सकता है, तो सिर्फ कांग्रेस पार्टी ही हरा सकती है। उन्होंने कहा कि कभी-कभी हमारी पार्टी के अंदर ही अलग होते हैं।

एक-दूसरे को हराने की कोशिश करते हैं, मुख्यमंत्री बनने की कोशिश करते हैं या फिर मंत्री बनने की सोचते हैं। हमें ये सब छोड़कर आगे बढ़ना होगा।


कमेंट करें