राजनीति

संगीत सोम पर ओवैसी का पलटवार- क्या लाल किले से तिरंगा नहीं फहराएंगे PM?

सतीश वर्मा, न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
459
| अक्टूबर 16 , 2017 , 14:41 IST

दुनियाभर में प्रेम के अद्वितीय प्रतीक ताजमहल को लेकर शुरू हुआ विवाद खत्म होने का नाम नहीं ले रहा है। बीजेपी के फायरब्रांड नेता और विधायक संगीत सोम के विवादित बयान पर अब एआईएमआईएम के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी ने पलटवार किया है। ओवैसी ने ट्वीट कर कहा, 'लाल किले को भी 'गद्दारों' ने बनाया था। तो क्या प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लाल किले पर तिरंगा फहराना छोड़ देंगे? क्या मोदी और योगी घरेलू और विदेशी पर्यटकों से कहेंगे कि वे ताजमहल को देखने ना आएं? यहां तक कि दिल्ली में हैदराबाद हाउस को 'गद्दारों' ने ही बनाया था। क्या मोदी यहां विदेशी मेहमानों की मेजबानी छोड़ देंगे?

बीजेपी का बचाव- संगीत सोम का निजी बयान

उधर, बीजेपी प्रवक्ता नलिन कोहली ने भी ताजमहल पर दिए गए संगीत सोम के बयान को उनका निजी राय बताया है। कोहली ने कहा है कि तामजहल भारत की सांस्कृतिक धरोहर है। यूपी सरकार में मंत्री रीता बहुगुणा जोशी ने भी कहा, 'यह किसी का व्यक्तिगत विचार हो सकता है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और मेरा मानना है कि ताजमहल हमारी सांस्कृतिक विरासत का हिस्सा है। यह हेरिटेज है और यह बड़ा टूरिस्ट स्पॉट भी है। प्रदेश की बीजेपी सरकार आगरा और ताजमहल के विकास के लिए प्रतिबद्ध है। पर्यटन के नजरिए से भी देखें तो हमें ताजमहल पर गर्व है।

सोम ने कहा- हज हाउस बनते हैं तो कांवड़ हाउस भी बने

गौरतलब है कि यूपी के मेरठ जिले की सरधना सीट से बीजेपी विधायक संगीत सोम ने कहा था कि गद्दारों के बनाए ताजमहल को इतिहास में जगह नहीं मिलनी चाहिए। उन्होंने कहा था कि एसपी नेता आजम खां द्वारा बनवाई गई जौहर यूनिवर्सिटी आतंकवादियों का अड्डा है। इसको एसपी के शासन में गलत तरीके से मोटा बजट दिया गया, इसकी जांच चल रही है और जांच के बाद कार्रवाई होगी। रोहिंग्या मुसलमानों को भी सोम ने आतंकी बताते हुए देश में शरण न देने की बात कही थी।

सोम ने कहा कि जिस समय गाजियाबाद में हज हाउस का निर्माण हुआ था, उसी दौरान वहां कांवड़ हाउस भी बनना चाहिए था लेकिन ऐसा नहीं किया गया, उसको अब हमारी सरकार में अमल में लाया गया। बताते चलें कि ताजमहल को उत्तर प्रदेश टूरिज़म बुक में स्थान न दिए जाने पर विवाद शुरू हो गया था। इसके बाद योगी सरकार की ओर से तुरंत सफाई दी गई थी कि ताजमहल देश की धरोहर है। इसके साथ ही ताजमहल के विकास पर काफी पैसा खर्च किया जा रहा है।


कमेंट करें