नेशनल

आप नेता आशुतोष पर दर्ज होगी FIR, नेहरू-अटल पर की थी अभद्र टिप्‍पणी

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
984
| मई 8 , 2018 , 08:24 IST

आम आदमी पार्टी का विवादो से गहरा नाता रहा है इस बार पार्टी के वरिष्ठ नेता आशुतोष नई मुश्किल में फंसते दिखाई दे रहे है। के नेता आशुतोष कुमार के खिलाफ अदालत ने अश्लीलता के प्रचार के आरोप में एफआईआर दर्ज करने का आदेश दिया है। आरोप है कि अशुतोष सेक्स स्कैंडल में फंसे पूर्व मंत्री संदीप कुमार के बचाव में सितंबर 2016 में ब्लॉग लिखा था। उन पर ब्लॉग में पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी से लेकर पंडित नेहरू और महात्मा गांधी तक को लेकर आपत्तिजनक बातें लिखने का आरोप है।

आशुतोष ने अदालत के आदेश को लेकर ट्वीट करते हुए लिखा है कि "मेरे ख़िलाफ़ FIR दर्ज करने का अदालत का आदेश आया है। अदालत का पूरा सम्मान है। लेकिन जो लोग अदालत गये हैं वो मेरे बोलने की आज़ादी पर रोक लगाना चाहते हैं । मैं अपना पक्ष अदालत में रखुंगा । गांधी मेरे आदर्श थे और रहेंगे । उनका अपमान करने का सवाल ही नही उठता।"

 

अडिशनल चीफ मेट्रोपॉलिटन मैजिस्ट्रेट एकता गाबा ने बेगमपुर पुलिस थाने के एसएचओ को निर्देश दिया कि वह आशुतोष के खिलाफ आईपीसी के तहत अश्लीलता के प्रचार और प्रसार से जुड़ी धाराओं 292/293 के तहत एफआई दर्ज करें। कोर्ट ने योगेंद्र नाम के एक शख्स की शिकायत पर यह आदेश जारी किया।

ऐडवोकेट प्रदीप खत्री के जरिए दायर शिकायत में कहा गया था कि आप नेता ने अपने ब्लॉग में पूर्व प्रधानमंत्री पंडित नेहरू, वाजपेयी और समाजवादी नेता राम मनोहर लोहिया के अपने समय में महिलाओं से संबंधों का जिक्र किया था। शिकायतकर्ता के मुताबिक, महात्मा गांधी तक को नहीं छोड़ा गया।

कोर्ट ने कहा कि आशुतोष ने नेताओं पर कलंक लगाकर और उनसे जुड़ी साहित्य संबंधी चीजों को पब्लिक डोमेन में लाकर तेजी से पब्लिसिटी हासिल करने की कोशिश की। कोर्ट ने कहा कि आशुतोष ने राष्ट्रपिता पर घिनौने कलंक लगाए।

इसे भी पढ़ें: सिद्धारमैया ने भेजा मोदी-शाह को कानूनी नोटिस, कहा- मांगे माफी

महात्मा गांधी का नाम आते ही एक आदर्श आदमी, स्वातंत्रा सेनानी, मानवता के प्रचारक वाले व्यक्ति की छवि उभर कर सामने आती है और ऐसे व्यक्ति की याद दिलाती है जिसकी लगातार कोशिशों की वजह से हमें आजादी मिली।


कमेंट करें