इंटरनेशनल

इंडोनेशिया: भारतीय पायलट ने की थी कई बार प्लेन बचाने की कोशिश, सेंसर खराब होने से हुआ था क्रैश

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
1672
| नवंबर 28 , 2018 , 16:03 IST

इंडोनेशिया में लॉयन एयरलाइंस का विमान सेंसर की खराबी की वजह से क्रैश हो गया था। पायलटों ने विमान को नियंत्रित करने की काफी कोशिश की थी क्योंकि विमान की स्वचालित सुरक्षा प्रणाली उसे लगातार नीचे ले जा रही थी। विमान के ब्लैक बॉक्स डाटा से यह बात सामने आई है। इंडोनेशिया के अधिकारियों ने पिछले माह हुई दुर्घटना की प्रारंभिक जांच रिपोर्ट में यह जानकारी दी है।

जांचकर्ता पता लगा रहे हैं कि कहीं सेंसर बोइंग 737 मैक्स 8 विमान के अगले हिस्से के नीचे झुकने की गलत सूचना तो नहीं दे रहे थे। यह विमान 29 अक्टूबर को जावा के समुद्र में क्रैश हो गया था। इसमें भारतीय पायलट भव्य सुनेजा समेत 189 लोगों की मौत हो गई थी।

बता दें कि इंडोनेशिया की लॉयन एयर का बोइंग-737 मैक्स-8 विमान 29 अक्तूबर को 189 यात्रियों और 8 क्रू सदस्यों के साथ जकार्ता के सोकार्णो हाता इंटरनेशनल एयरपोर्ट से उड़ान भरने के महज 13 मिनट बाद तकनीकी खराबी के चलते जावा द्वीप के करीब समुद्र में गिर गया था।

इस हादसे में विमान में सवार सभी लोगों की मौत हो गई थी। जांच में सामने आया था कि क्रैश से पहले पायलटों ने तकनीकी खराबी बताते हुए एयरपोर्ट पर वापस लौटने की अनुमति मांगी थी लेकिन इसके बाद उनका संपर्क टूट गया था और विमान क्रैश हो गया था। संपर्क टूटने के समय विमान करीब 5000 फीट की ऊंचाई पर उड़ रहा था।


कमेंट करें