बिज़नेस

क्रिप्टोकरंसी फर्म के CEO की मौत, निवेशकों के 974 करोड़ फंसे, पासवर्ड किसी को पता नहीं

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
1913
| फरवरी 6 , 2019 , 13:37 IST

कनाडा की क्रिप्टोकरंसी फर्म क्वाड्रिगा के फाउंडर और सीईओ गेराल्ड कोटेन (30) की मौत होने से निवेशकों की 974 करोड़ रुपए की वैल्यू की क्रिप्टोकरंसी फ्रीज हो गई है। इस करंसी को अनलॉक करने का पासवर्ड सिर्फ कोटेन के पास था। कोटेन की मौत दिसंबर में हुई थी। पिछले हफ्ते क्वाड्रिगा ने कनाडा के कोर्ट में क्रेडिट प्रोटेक्शन की अर्जी दाखिल की तो क्रिप्टोकरंसी लॉक होने की जानकारी सामने आई।

मुख्य कंप्यूटर का ऑनलाइन एक्सेस नहीं

क्वाड्रिगा के जरिए बिटकॉइन, लाइटकॉइन और इथ्रीरियम कॉइन जैसी क्रिप्टोकरंसी में ट्रेडिंग में की जा सकती है। इसके लॉक होने से 1.15 लाख यूजर पर असर पड़ा है। कंपनी के 3.63 लाख रजिस्टर्ड यूजर हैं। कोटेन की पत्नी जेनिफर रॉबर्टसन ने कोर्ट में दाखिल एफिडेविट में यह जानकारी दी है।

जेनिफर ने कहा है कि कोटेन के मेन कंप्यूटर में क्रिप्टोकरंसी का कोल्ड वॉलेट है जिसे सिर्फ फिजिकली एक्सेस किया जा सकता है। उसका पासवर्ड सिर्फ कोटेन जानते थे। लेकिन, उनकी मौत के बाद कोल्ड वॉलेट में क्रिप्टोकरंसी फंस गई है।

जेनिफर ने बताया कि वो कोटेन के बिजनेस में शामिल नहीं थीं। इसलिए, उन्हें पासवर्ड और रिकवरी-की के बारे में पता नहीं है। जेनिफर का कहना है कि घर में काफी तलाश करने के बाद भी पासवर्ड कहीं लिखा हुआ नहीं मिला। एक्सपर्ट से भी बात की लेकिन कोटेन के दूसरे कंप्यूटर से कुछ कॉइन ही रिकवर हो पाए। विशेषज्ञ भी मेन कंप्यूटर का एक्सेस हासिल नहीं कर पाए।
क्रॉनिक डिजीज की वजह से दिसंबर में कोटेन की मौत हो गई थी। उस वक्त वो भारत की यात्रा पर थे। कोटेन भारत में अनाथ और बेसहारा बच्चों के लिए काम कर रहे थे।


कमेंट करें