नेशनल

धर्मादेश: राम मंदिर निर्माण को लेकर दिल्ली में साधु-संतों ने भरी हुंकार

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
1473
| नवंबर 3 , 2018 , 12:21 IST

अयोध्या में राम जन्मभूमि पर राममंदिर के निर्माण को लेकर साधु-संतों ने दिल्ली में डेरा डाला हुआ है। विभिन्न मुद्दों को लेकर देश भर के करीब तीन हजार साधु संत दिल्ली के ताल कटोरा स्टेडियम में बैठक कर रहे हैं। दो दिनों तक चलने वाले इस सम्मेलन में वो सरकार को राममंदिर के निर्माण के लिए कानून बनाने का धमार्देश देंगे।

4 नंवबर को सम्मेलन के प्रस्तावों को लेकर प्रेस ब्रीफिंग की जाएगी। अखिल भारतीय संत समिति के अध्यक्ष जगद्गुरु रामानंदाचार्य हंसदेवाचार्य ने कहा है कि बातचीत का रास्ता बंद होने के बाद राममंदिर के सवाल पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले की प्रतीक्षा है। सभी लोग शीर्ष अदालत का सम्मान करते हैं।

मंदिर निर्माण पर चर्चा

धर्मादेश में देश भर से आए साधु महात्मा राम मंदिर निर्माण पर चर्चा करेंगे। धर्मा देश के पहले दिन अलग-अलग दंगों में मारे गए लोगों को श्रद्धांजलि दी जाएगी। साधु-संत चर्च और मस्जिदों द्वारा दिए जा रहे फतवा पर भी चर्चा करेंगे।

स्वामी जितेंद्रानंद सरस्वती ने कहा कि संत समाज देश के अलग-अलग मुद्दों पर चर्चा करेंगे। उन्होंने कहा कि अर्बन नक्सल में देश विरोधी ताकतें शामिल हैं। सुप्रीम कोर्ट के माननीय जज उन्माद फैला रहे हैं, अयोध्या के मामले में जब वह कहते हैं कि उनके पास समय नहीं है।

देश को दशकों से राम मंदिर का इंतजार

अखिल भारतीय संत समिति के महामंत्री ने कहा कि प्राइवेट मेंबर बिल के जरिए यह भी साफ हो जाएगा कि कौन राम मंदिर के पक्ष में है और कौन विरोध में। इससे किसी दल पर यह आरोप नहीं लगेगा कि वह मंदिर के लिए कानून लेकर आई। राम भक्त और हिंदुओं ने राम मंदिर के लिए दशकों से इंतजार कर रहे हैं।

बता दें कि, संघ परिवार के बाद संत समाज ने भी अध्यादेश के जरिये अयोध्या में राम मंदिर के लिए सरकार पर दबाव बढ़ा दिया है। इसी सिलसिले में तीन और चार नंवबर को दिल्ली के तालकटोरा स्टेडियम में देशभर से संतों की बैठक बुलाई गई है।


कमेंट करें