नेशनल

Demonetisation : आज भी नहीं भरे हैं नोटबंदी के जख्म- मनमोहन सिंह

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
1315
| नवंबर 8 , 2018 , 11:44 IST

नोटबंदी के दो साल पूरे होने पर पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने केन्द्र की मोदी सरकार पर निशाना साधा है। मनमोहन सिंह ने नोटबंदी को विनाशकारी आर्थिक नीति बताते हुए कहा कि नोटबंदी ने पूरे देश की अर्थव्यवस्था को प्रभावित किया है। दो साल बाद भी लोग नोटबंदी की मार से उबर नहीं सके हैं, साथ ही भारतीय समाज पर भी इसका बुरा असर पड़ा है।

081118 MANMOHAN SINGH

मनमोहन मे आगे कहा है कि नोटबंदी ने हर तबके पर असर डाला है। उन्होंने कहा सरकार के इस फैसले से कई तरह की आर्थिक, सामाजिक और संस्थागत क्षति हुई है। नोटबंदी से नौकरी पेशा लोग भी प्रभावित हुए हैं।

मनमोहन सिंह ने कहा कि नोटबंदी से भारतीय अर्थव्यवस्था पर जो कहर बरपा, वह अब सबके सामने है। नोटबंदी ने हर व्यक्ति को प्रभावित किया, चाहे वह किसी भी धर्म, जाति, पेशा या संप्रदाय का हो। अक्सर कहा जाता है कि वक्त सभी जख्मों को भर देता है लेकिन नोटबंदी के जख्म-दिन-ब दिन और गहराते जा रहे हैं।

पूर्व पीएम ने कहा कि नोटबंदी से जीडीपी में गिरावट तो दर्ज हुई ही, उसके और भी असर देखे जा रहे हैं। छोटे और मंझोले धंधे भारतीय अर्थव्यवस्था की रीढ़ हैं जिसे नोटबंदी ने पूरी तरह से तोड़ दिया। अर्थव्यवस्था लगातार जूझती जान पड़ रही है जिसका बुरा असर रोजगार पर पड़ रहा है।

युवाओं को नौकरियां नहीं मिल पा रहीं. इंफ्रास्ट्रक्चर के लिए दिए जाने वाले कर्ज और बैंकों की गैर-वित्तीय सेवाओं पर भी काफी बुरा असर पड़ा है। नोटबंदी के कारण रुपए का स्तर गिरा है जिससे मैक्रो-इकोनॉमी भी काफी प्रभावित हुई है।


कमेंट करें