नेशनल

अयोध्या में ऐतिहासिक दिवाली, सीएम योगी ने उतारी प्रभु राम की आरती

सतीश वर्मा, न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
972
| अक्टूबर 18 , 2017 , 17:06 IST

अयोध्या में इतिहास की सबसे बड़ी दीवाली मनाई जा रही है। भगवान राम के आगमन पर अयोध्या में भव्य तैयारी है। सरयू नदी पर राम की पैड़ी में दीप उत्सव मनाया जा रहा है। अयोध्या में तैयारी ऐसी है जैसे जमाने पहले भगवान राम के वनवास से लौटने के बाद यहां दिवाली मनाई गई थी। पुष्पक विमान की जगह हेलीकॉप्टर के जरिये भगवान राम की सवारी उतरी। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भगवान राम को तिलक लगाया और फिर आरती उतारी।

राज्यपाल राम नाईक और योगी आदित्यनाथ अयोध्या पहुंचे

सीएम योगी और राज्यपाल राम नाईक ने राम, लक्ष्मण और सीता का स्वागत किया। भगवान राम पर हेलीकॉप्टर से पुष्प वर्षा की गई।

योगी ने रामकथा पार्क में राम और लक्ष्मण की आरती उतारी। इस दौरान उनके साथ राम नाईक, डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा-केशव मौर्य और रीता बहुगुणा जोशी भी मौजूद रहे। रामकथा पार्क में श्रीराम का राज्याभिषेक किया गया।

बन सकता है वर्ल्ड रिकॉर्ड

इस बार छोटी दिवाली के मौके पर करीब 4 हजार लीटर तिल के तेल से 1.71 लाख दीप जलाए जाएंगे। इसके जरिए योगी सरकार एक साथ सबसे ज्यादा दीप जलाने का गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाना चाहती है। इससे पहले यह रिकॉर्ड बाबा राम रहीम के नाम पर दर्ज है। हरियाणा के सिरसा में 23 सितंबर 2016 को हुए एक प्रोग्राम में डेढ़ लाख से ज्यादा दीप जलाए गए थे।

इस मौके पर सरयू घाट पर क़रीब दो लाख दिए भी जलाए जाएंगे। इसके अलावा लेजर शो के अलावा रामलीला का मंचन का कार्यक्रम भी है, जिसके लिए थाईलैंड और श्रीलंका से भी कलाकार यहां पहुंचे हुए हैं। इस मौके पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ अयोध्या के लिए कई योजनाओं की भी शुरुआत करेंगे।

माना जाता है कि त्रेता युग में 14 साल का वनवास काटकर और लंका विजय कर अयोध्या लौटे भगवान राम का जोरदार स्वागत किया गया था और राम की नगरी को दीपों से सजाया गया था।

इस बार दीपावली पर अयोध्या में खास रौनक है। बाजार सजे हुए हैं। सड़कों पर श्रद्धालुओं की भीड़ है. लोग भी इस खास दीपावली के इंतजार में हैं। इस त्योहार में तीन दिन तक अयोध्या की सड़कों पर मेला जैसा माहौल होता है। सड़कों पर दुकानें लगती हैं। आतिशबाजी, खील-बतासे, खिलौने और अन्य सजावटी सामान बिकता है।

देखिये वीडियो


कमेंट करें