नेशनल

...तो इस वजह से लालू एम्स से रांची शिफ्ट होना नहीं चाहते थे? अब क्या होगा?

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
1265
| मई 1 , 2018 , 14:11 IST

चारा घोटाले में सजा काट रहे राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव दिल्ली से रांची पहुंच चुके हैं। लालू का रांची के रिम्स यानी राजेन्द्र इंस्टिट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज में इलाज चल रहा है। रिम्स में भर्ती होने के बाद उन्हें दिल्ली के एम्स में लाया गया था जिसके बाद सोमवार को उन्हें एम्स से डिस्चार्ज कर दिया गया। हालांकि एम्स से डिस्चार्ज होने पर दिल्ली में जमकर हंगामा हुआ। दरअसल, लालू एम्स से जाना नहीं चाहते थे। उनका कहना था कि वे अभी पूरी तरह से फिट नहीं हुए हैं।

Lalu-759

जानकारों की मानें तो लालू को ये डर है कि एम्स से छुट्टी दिये जाने के बाद उन्हें रिम्स भी फिट घोषित कर देगा जिसके बाद उन्हें फिर से जेल जाना होगा।

मंगलवार को लालू को लेकर डॉक्टरों की टीम जब रांची पहुंची तो एंबुलेंस में तैनात डॉक्टर लाल मांझी ने उनकी तबीयत ठीक बताई। डॉक्टर लाल के मुताबिक उम्र संबंधी कुछ शिकायतों को छोड़ दिया जाए तो, कुल मिलाकर उनकी सेहत ठीक है।

दरअसल, दिल्ली में रहते हुए लालू को जेल की टेंशन नहीं थी। एम्स में रहने के दौरान लालू जिस तरह से तमाम राजनीतिक हस्तियों से मिलते रहे, उसने जरूर मोदी सरकार के कान खड़े किए होंगे। दिल्ली में राजनीति के केंद्र में खुद लालू भी इन मुलाकातों की अहमियत अच्छी तरह समझते हैं। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से पहले लालू एम्स में तृणमूल सांसद डेरेक ओ ब्रायन और आरएसएलपी नेता और केंद्रीय मंत्री उपेंद्र कुशवाहा से भी मिले थे।

आपको बता दें कि सोमवार को लालू ने एम्स से डिस्चार्ज होने के बाद कहा कि यह उनके खिलाफ राजनीतिक साजिश है। उन्होंने कहा, 'मुझे कुछ हुआ तो इसके लिए सरकार जिम्मेदार होगी। नरेंद्र मोदी के दबाव में मुझे एम्स से डिस्चार्ज किया गया है। मैं पूरी तरह फिट नहीं हूं। बिना फिट हुए ही मुझे रिम्स भेजा जा रहा है।

लालू ने एम्स को लिखे अपने पत्र में कहा था, 'मैं रांची अस्पताल नहीं जाना चाहता क्योंकि वहां मेरा उचित इलाज नहीं हो पाएगा।' लालू ने अपने पत्र में लिखा था, 'मुझे बताया गया है कि मुझे अस्पताल से छुट्टी देने की तैयारी चल रही है। मुझे एम्स में अच्छे इलाज के लिए भेजा गया था। अभी मेरी तबीयत ठीक नहीं हुई है।

Master


कमेंट करें