मनोरंजन

'चीट इंडिया' के बाद 'फादर्स डे' में नज़र आएंगे इमरान हाशमी, बनेंगे जासूस

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
1470
| अगस्त 6 , 2018 , 19:58 IST

बॉलीवुड इंडस्ट्री की रोमांटिक फिल्मों में अपनी पहचान बनाने वाले इमरान हाशमी चीट इंडिया के बाद शांतनु बागची की फिल्म 'फादर्स डे' में नजर आने वाले हैं। 'फादर्स डे' भारत के जासूस सूर्यकांत भंडे पाटिल की जीवन पर बनेगी। इस बात की घोषणा सोमवार को ट्वीटर पर की गई है।

Collage 12

फिल्म क्रिटिक और ट्रेड एनालिस्ट तरण आदर्श ने ट्वीट करते हुए बताया - 'इमरान हाशमी फादर्स डे में होंगे। यह फिल्म भारत के जासूस सूर्यकांत भंडे पाटिल की जिंदगी पर आधारित होगी, जिन्होंने 120 बच्चों के किडनैपिंग केस को मुफ्त में सुलझाया था। एडमैन शांतुन बागची डायरेक्ट करेंगे...रीतेश शाह फिल्म की कहानी लिखेंगे... इमरान हाशमी, प्रिया गुप्ता और कल्पना उदयवर इसे प्रोड्यूस करेंगे...2019 में शुरू होगी।'

सोमवार सुबह ही इमरान ने भी यह खबर अपने ट्विटर अकाउंट पर कंफर्म करते हुए लिखा- 'यह घोषणा करते हुए उत्साहित हूं कि मैं फादर्स डे का हिस्सा हूं, जो भारत के जासूस सूर्यकांत भंडे पाटिल की जिंदगी पर आधारित होगी। सूर्यकांत ने 120 बच्चों के किडनैपिंग केस को मुफ्त में सुलझाया था।'

'दृश्यम अदृश्यम' पर आधारित है इस फिल्म की कहानी-

ये कहानी एक पिता और उसके बेटे पर बन रही है। यह गुजराती लेखक प्रफुल शाह की किताब 'दृश्यम अदृश्यम' पर आधारित है। इस फिल्म में इमरान हाशमी सूर्यकांत भांडे का रोल करेंगे। फिल्म की कहानी 35 की उम्र वाले सूर्यकांत पर आधारित होगी। जब 1998 में उनके बेटे का किडनैप हुआ था।

615ce2d52f4afd726853ca7366f405d8

फादर्स डे का डायरेक्शन 300 से ज्यादा एड फिल्म्स बना चुके शांतनु बागची कर रहे हैं। फिल्म का प्रोडक्शन मातृम फिल्म्स की प्रिया गुप्ता, कल्पना उदयवार और इमरान हाशमी मिलकर कर रहे हैं। फिल्म की शूटिंग 2019 में शुरू होगी। शांतनु के फिल्मी करियर की बात करें तो उन्होने 'पिंक', 'रेड' जैसी फिल्मों के स्क्रीनप्ले और डायलॉग रितेश शाह के साथ मिलकर लिखे हैं। फिल्म के बारे में ज्यादा जानकारी का खुलासा नहीं किया गया है।

एक मीडिया हाउस को दिए गए इंटरव्यू में इमरान ने बताया कि 'सूर्यकांत जी की स्टोरी बहुत दिल तोड़ देने वाली है लेकिन यह काफी प्रेरक भी है। आपको मुश्किल से ही कोई ऐसा आदमी मिलेगा जो पूरी जिंदगी दूसरे के बच्चों के अगवा किए जाने के मामलों में मुफ्त में मदद करता रहा। मुझे गर्व है कि मैं फिल्म में सूर्यकांत जी का किरदार निभा रहा हूं'।

कुछ ऐसी है सूर्यकांत भांडे की कहानी-

पुणे में सिविल इंजीनियर के रूप में कार्यरत सूर्यकांत भांडे का बेटा महज़ 3 साल का था, जब उसे इनके ही एक नौकर ने किडनैप कर लिया था। महीनें बीतने के बावजूद पुलिस सूर्यकांत के बेटे को खोज नहीं पाई थी। पुलिस से निराश होकर सूर्यकांत ने खुद ही अपने बेटे का पता लगाने का मन बनाया। खोज के 7 महीनों बाद उन्हें बेटे का पता तो मिला, लेकिन तब तक किडनैपर्स ने उनके बेटे को मार दिया था। इसके बाद से ही वे पुलिस के साथ मिलकर किडनैप किए गए बच्चों की लोकेशन ट्रेस करने का काम करने लगे थे।

बता दें कि पुणे के सूर्यकांत भांडे पाटिल एक सिविल इंजिनियर हैं। जो मुंबई पुलिस के साथ मिलकर खोए हुए बच्चों को ढूंढने में मदद करते हैं। इस समय सूर्यकांत की उम्र 55 साल है और इमरान उस समय का उनका किरदार निभाएंगे जब वह 35 वर्ष के थे। इस काम के लिए सूर्यकांत भांडे ने एक वेबसाइट भी बनाई है। सूर्यकांत की एक डिटेक्टिव एजेंसी भी है जिसकी शुरूआत उन्होने साल 1999 में की थी। सूर्यकांत भांडे की कहानी इमरान हाशमी की फिल्म 'फादर्स डे' में देखने को मिलेगी।

फिलहाल इमरान 'चीट इंडिया' की शूटिंग में व्यस्त हैं। यह फिल्म इंडिया में एजुकेशन सिस्टम में होने वाले क्राइम पर आधारित है। इस फिल्म में इमरान के साथ ऋषि कपूर और श्रेया घनवंतरी होंगी। एक्टिंग के अवाला इमरान इस फिल्म का प्रोडक्शन भी कर रहे हैं। फिल्म डायरेक्शन सौमिक सेन कर रहे हैं। 'चीट इंडिया' 25 जनवरी 2019 को रिलीज होगी।


कमेंट करें