नेशनल

महाराष्ट्र: अपनी मांगों को लेकर आजाद मैदान में अन्नदाताओं की हुंकार

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
1717
| नवंबर 22 , 2018 , 15:07 IST

अपनी मांगों के लेकर महाराष्ट्र में अन्नदाता एक बार फिर सड़क पर हैं। महाराष्ट्र के करीब 20 हजार किसान मुंबई पहुंच रहे हैं। ये सभी किसान अपनी मांगों को लेकर सरकार के खिलाफ मुंबई विधान भवन के सामने प्रदर्शन करेंगे। किसानों और आदिवासियों का लोक संघर्ष मोर्चा दादर पहुंचा। यहां से ये मोर्चा आजाद मैदान की ओर बढ़ रहा है ।

सूखे के लिये मुआवजे और आदिवासियों को वन्य अधिकार सौंपे जाने की मांग को लेकर हजारों किसान एवं आदिवासियों ने बुधवार को ठाणे से मुंबई तक दो दिवसीय मार्च शुरू किया। इस बीच महाराष्ट्र सरकार के मंत्री गिरीश महाजन ने किसान नेताओं को सरकार से बात करने को कहा है।

33करीब 20,000 से ज्यादा किसान इस मार्च में शामिल हो रहे हैं। किसान और आदिवासी अपने खाने-पीने का सामान भी साथ लेकर चल रहे हैं। आठ महीने पहले किसानों ने नासिक से ऐसा ही मार्च निकाला था।

क्या हैं किसानों की मुख्य मांगे ?

  1. किसान स्वामीनाथन रिपोर्ट को लागू करने की मांग कर रहे हैं। स्वामीनाथन रिपोर्ट में ये सुझाव दिया गया है कि जमीन और पानी जैसे संसाधनों तक किसानों की निश्चित रूप से पहुंच और नियंत्रण होना चाहिए।
  2. न्यूनतम समर्थन मूल्य बढ़ाने और इसे लागू करने के लिए न्यायिक तंत्र की मांग।
  3. सरकार द्वारा पिछले साल घोषित कर्ज माफी पैकेज को उचित तरीके से लागू किया जाए
  4. किसानों के लिये भूमि अधिकार और खेतिहर मजदूरों के लिए मुआवजे की व्यवस्था हो।

कमेंट करें