राजनीति

बढ़ रही है पनीरसेल्वम की ताकत, 5 और सांसदों का मिला साथ; कुल संख्या हुई 10

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
595
| फरवरी 12 , 2017 , 17:00 IST

सत्ताधारी अन्नाद्रमुक के बीच चल रहे सत्तासंघर्ष के बीच रविवार को ओ पनीरसेल्वम को पांच और सांसदों का समर्थन मिल जाने पर उनके खेमे को मजबूती मिली है। अब उनके समर्थन में आए सांसदों की संख्या बढ़कर 10 हो गई है। पार्टी के चार लोकसभा सांसदों- जयसिंह त्यागराज नटर्जी, सेंगूट्टूवन, आर पी मरूथाराजा, और एस राजेंद्रन ने रविवार सुबह पनीरसेल्वम से उनके ग्रीनवेज रोड स्थित आवास पर मुलाकात की।

राज्यसभा के सांसद आर लक्ष्मणन ने भी पनीरसेल्वम के खेमे में शामिल होते हुए मुख्यमंत्री का मनोबल बढ़ाया था। पनीरसेल्वम ने अन्नाद्रमुक की महासचिव वी के शशिकला के खिलाफ बगावत का झंडा बुलंद किया है। आपको बता दें कि अन्नाद्रमुक के 37 लोकसभा सांसद और 13 राज्यसभा सांसद हैं।

इसी बीच, शशिकला ने लक्ष्मणन को विल्लापुरम को सचिव पद से ‘हटा’ दिया और उनके स्थान पर कानून मंत्री सी वी शानमुगम को जगह दी। पनीरसेल्वम की बगावत के बाद राज्यसभा में अन्नाद्रमुक के सांसद वी मैत्रेयन उन्हें समर्थन देने वाले पहले सांसद थे। अन्नाद्रमुक के चार लोकसभा सांसदों- पी आर सुंदरम, के अशोक कुमार, वी सत्यभामा और वनरोजा पहले ही मुख्यमंत्री को समर्थन देने का वादा करके उनके खेमे में आ गए थे।

Party-meeting-sasikala-leaves-after-attending-the_595f6342-edc6-11e6-b62a-376882c41036

इस समय पनीरसेल्वम के पास उनके समेत अन्नाद्रमुक के छह विधायकों का भी समर्थन है। तमिलनाडु की 235 सदस्यीय विधानसभा में अन्नाद्रमुक के 135 विधायक हैं। पूर्व विधायक बादेर सईद और मुतुसेल्वी ने भी आज पनीरसेल्वम को अपना समर्थन दिया।

इसी बीच, अभिनेताओं और स्टार प्रचारकों ने पनीरसेल्वम को अपना समर्थन दे दिया। इनमें जयललिता के वफादार रामराजन, थियागू, अभिनेता-निर्देशक एवं पूर्व विधायक अरूणपांडियन भी शामिल हैं। इन लोगों ने पनीरसेल्वम से उनके आवास पर मुलाकात की और उनके प्रति एकजुटता दिखाई।


कमेंट करें