लाइफस्टाइल

सेक्स करने से नहीं होती है हड्डियों की बीमारी 'ऑस्टियोपोरोसिस'!

राजू झा, न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 1
2462
| नवंबर 15 , 2018 , 17:31 IST

वैज्ञानिकों का एक बड़ा दल सेक्स से संबंधी भ्रांतियों को बदलने के लिए शोध में जुटा है। यह दल मानता है कि खुद को तरोताजा रखने व तनाव को दूर करने के लिए नियमित सेक्स एक अच्छा उपचार है। नियमित सेक्स से पैदा होने वाले हारमोन से 'ऑस्टियोपोरोसिस' नामक बीमारी नहीं होती? सेक्स से शरीर में एस्ट्रोजन हार्मोन उत्पन्न होता है जो हड्डियों की बीमारी 'ऑस्टियोपोरोसिस' नहीं होने देता है।

सेक्स से स्किन होती है सुंदर

सेक्स से एंडॉर्फिन हार्मोन की मात्रा बढ़ जाती है, जिससे स्किन सुंदर, चिकनी व चमकदार बनती है। एस्ट्रोजन हार्मोन शरीर के लिए एक चमत्कार है, जो एक अनोखे सुख की अनुभूति कराता है।

सेक्स से परहेज यानी बीमारियों को न्योता

सफल व नियमित सेक्स करने वाले दंपति अधिक स्वस्थ देखे गए हैं। उनका सौंदर्य भी लंबी उम्र तक बना रहता है। उनमें उत्तेजना, उत्साह, उमंग और आत्मविश्वास भी अधिक होता है। सेक्स से परहेज करने वाले शर्म, संकोच, अपराधबोध व तनाव से पीड़ित रहते हैं। यहां तक कि लंबी उम्र तक सेक्सुअल लाइफ आरंभ ना हो तो लड़कियों में फायब्राइड्स की समस्या हो जाती है। पुरुषों में अधिक समय तक सेक्स के प्रति अरूचि हो तो नपुंसकता का खतरा बढ़ जाता है।

Kgn-img-336967

सेक्स एक प्रकार का व्यायाम

सेक्स एक प्रकार का व्यायाम भी है। सेक्स व्यायाम शरीर की मांसपेशियों के खिंचाव को दूर करता है और शरीर को लचीला बनाता है। एक बार का हेल्दी सेक्स किसी थका देने वाले एक्सरसाइज या स्विमिंग के 10-20 चक्करों से अधिक असरदार होता है। सेक्स विशेषज्ञों के अनुसार मोटापा और कमर दर्द दूर करने के लिए सेक्स काफी सहायक सिद्ध होता है।

'किस' से वजन घट सकता है

सेक्स से शारीरिक ऊर्जा खर्च होती है, जिससे चर्बी घटती है। एक बार के सेक्स में 500 से 1000 कैलोरी ऊर्जा खर्च होती है। सेक्स के समय लिए गए चुंबन भी मोटापा दूर करने में सहायक सिद्ध होते हैं। विशेषज्ञों के अनुसार सेक्स के समय लिए गए एक चुंबन से लगभग 9 कैलोरी ऊर्जा खर्च होती है। इस तरह 390 बार चुंबन लेने से 1/2 किलो वजन घट सकता है।

फेरोमोंस मतलब सेक्स परफ्यूम

वैज्ञानिकों ने शोध करके पता लगाया है कि सेक्स अगर स्वस्थ दिल-दिमाग और मानसिकता से किया जाए तो फेरोमोंस नामक रसायन शरीर में एक प्रकार की गंध उत्पन्न करता है, जिसे सेक्स परफ्यूम कहा जा सकता है।

सेक्स से भागने वालों को होता है हार्ट अटैक

यह सेक्स परफ्यूम दिल व दिमाग को असाधारण सुख व शांति देता है। सेक्स हृदय रोग, मानसिक तनाव, रक्तचाप और दिल के दौरे से दूर रखता है। सेक्स से भागने वाले इन रोगों से अधिक पीड़ित रहते हैं।

सेक्स से शरीर में अनेक प्रकार के हार्मोन उत्पन्न होते हैं, जो शरीर के स्वास्थ्य एवं सौंदर्य को बनाए रखने में सहायक होते हैं। इससे पहले वैज्ञानिक यह सिद्ध कर चुके हैं कि सेक्स कई रोगों का इलाज भी है। जीवन में सेक्स एक-दूजे के बीच सुख, आनंद, अपनापन लाता है, वहीं एक-दूजे की हेल्थ एवं ब्यूटी को भी बनाए रखता है।


कमेंट करें