नेशनल

इराक के मोसुल में लापता 39 भारतीय को ISIS ने मारा: संसद में सुषमा का बयान

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
879
| मार्च 20 , 2018 , 15:04 IST

राज्‍यसभा में विदेश मंत्री सुषमा स्‍वराज ने एक बड़ा बयान दिया है। उन्होंने इराक में लापता भारतीयों के मारे जाने की पुष्‍टि की है। उन्‍होंने बताया, इराक के मोसुल में लापता सभी 39 भारतीय मारे गए हैं। ISIS ने सभी भारतीयों की हत्‍या कर सभी को दफना दिया था। उन्होंने कहा कि बंधक बनाए जाने वाली कहानी झूठी थी।

करीब तीन साल बाद विदेश मंत्री ने दिल दहला देने वाली सच्‍चाई बताते हुए कहा, 'पहाड़ी खोदकर शव निकाले गए और डीएनए सैंपल से शवों की पहचान हुई। सबसे पहले संदीप नाम के लड़के का डीएनए मैच हुआ है। उन्होंने कहा कि हर तरह से यह पुष्टी हो चुकी है कि वे सभी लापता भारतीय मारे गये हैं। 

विदेश मंत्री ने बताया कि वीके सिंह इराक जाएंगे और मृतकों के पार्थिव शरीर भारत लेकर आएंगे। विमान के जरिए शवों को पंजाब, हिमाचल, पटना और पश्चिम बंगाल पहुंचाया जाएगा। 39 में से 31 पंजाब के रहने वाले थे।

विदेश मंत्री ने कहा, 'इराक में जब वीके सिंह समेत भारतीय अफसर लोगों को ढूंढ रहे थे, तो उन्होंने वहां डीप पेनीट्रेशन रडार की मांग की। उन्हें जमीन के अंदर लोगों के दबे होने की बात पता लगी थी। इसके बाद भारतीयों के हत्या के सबूत मिले। पहाड़ खुदवाकर शवों को निकलवाया गया। विदेश मंत्री ने विदेश राज्य मंत्री वीके सिंह का शुक्रिया अदा किया और कहा कि उन्होंने काफी धैर्यपूर्वक इस अभियान को पूरा किया। वे बदूस गए। मुश्किल हालात में रहे, जमीन पर सोए। फिर शवों को बगदाद लेकर आए।

आपको बता दें कि पिछले साल जुलाई में विदेश मंत्री ने लोकसभा में कहा था कि बिना ठोस सबूत के वे 39 भारतीयों को मृत नहीं घोषित कर सकतीं। बगैर सबूत के किसी को मृत करार देना पाप है। मैं यह पाप नहीं करूंगी। 


कमेंट करें