नेशनल

RSS के स्वयंसेवकों को 7 जून को संबोधित करेंगे प्रणब दा, नागपुर जाने की ये है वजह

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
1065
| मई 28 , 2018 , 16:39 IST

भारत के पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी आरएसएस मुख्यालय जाएंगे। आरएसएस ने प्रणब मुखर्जी को 7 जून को नागपुर में स्वयंसेवकों के विदाई संबोधन के लिए आमंत्रित किया है। वह संघ शिक्षा वर्ग के तृतीय वर्ष ओटीसी (ऑफिसर्स ट्रेनिंग कैंप) में शामिल हो रहे स्वयंसेवकों को संबोधित करेंगे। आरएसएस के साथ पूर्व राष्ट्रपति के कार्यालय ने भी इस यात्रा की पुष्टि कर दी है। बताया जा रहा है कि प्रणब मुखर्जी इस कार्यक्रम में दो दिन शामिल होंगे। इसके बाद वे आठ जून को नागपुर से वापस लौटेंगे।

पूर्व राष्ट्रपति ने अपने राजनीतिक करियर की शुरुआत कांग्रेस से की थी और उन्होंने कांग्रेस की सरकारों में कई अहम जिम्मेदारियां संभाली है। वो देश के रक्षा मंत्री और वित्त मंत्री रह चुके हैं। बता दें कि बीजेपी को आरएसएस की राजनीतिक ईकाई मानी जाती है। इसके बावजूद प्रणब मुखर्जी के आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत के साथ अच्छे संबंध हैं। मुखर्जी के राष्ट्रपति पद पर कार्यकाल के दौरान दोनों की राष्ट्रपति भवन में दो से तीन बार मुलाकात हुई थी।

RSS-1-620x400

गौरतलब है कि गर्मियों के दौरान आरएसएस पूरे देश में अपने स्वयंसेवकों के लिए प्रशिक्षण शिविर आयोजित करता है। तृतीय वर्ष का अंतिम प्रशिक्षण शिविर संघ के मुख्यालय नागपुर में आयोजित किया जाता है। अक्सर तृतीय वर्ष प्रशिक्षण हासिल करने के बाद ही स्वयंसेवक फुल टाइम प्रचारक बन सकते हैं।

इस कार्यक्रम के लिए पूर्व राष्ट्रपति को दिए गए निमंत्रण पर आरएसएस ने कहा है कि इस कार्यक्रम में संबोधन के लिए प्रबुद्ध और प्रसिद्ध लोगों को आमंत्रित किया जाता है। इस साल हमने पूर्व राष्ट्रपति मुखर्जी को आमंत्रण भेजा है, जिसे उन्होंने स्वीकार भी कर लिया है। आरएसएस के सूत्रों ने कहा कि जब प्रणब मुखर्जी राष्ट्रपति थे, तब आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत उनसे मिलने पहुंचे थे। इस दौरान उन्होंने आरएसएस के बारे में और अधिक जानने की इच्छा जताई थी इसीलिए उन्हें इस कार्यक्रम में शामिल होने का न्योता दिया गया।


कमेंट करें