राजनीति

बढ़ती महंगाई से गुस्से में जनता, नोटबंदी-GST ने देश को बर्बाद कर दिया: चिदंबरम

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
653
| जून 11 , 2018 , 14:01 IST

यूपीए सरकार में वित्त मंत्री रहे पी चिदंबरम ने सोमवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस कर मोदी सरकार पर बड़ा हमला बोला है, पी. चिदंबरम ने कहा कि देश के आर्थिक हालात अच्छे नहीं हैं। उन्होंने मोदी सरकार को घेरते हुए कहा है कि सरकार की गलत नीतियों के कारण देश का नुकसान हो रहा है।

पी.चिदंबरम ने प्रेस कॉन्फ्रेंस विकास दर को लेकर मोदी सरकार पर निशाना साधा, चिदंबरम ने कहा कि भारत की विकास दर में 1.5 फीसदी कमी आई है । जीएसटी के कारण कारोबारियों को बड़ा नुकसान हुआ है। मुद्रास्फीति बढ़ रही है। रेपो दर में वृद्धि इसका सबसे बड़ा सबूत है।

चिदंबरम ने किसानों की दोगुनी आय का जिक्र करते हुए कहा कि किसानों को लागत पर 50 फीसदी का मुनाफा एक जुमला था । पेट्रोल, डीजल और एलपीजी की कृत्रिम रूप से तय कीमतों को लेकर व्यापक आक्रोश है। मई-जून 2014 में जो कीमतें थीं, उसके मुकाबले आज कीमतें अधिक होने की कोई वजह नहीं है।

उन्होंने श्रम ब्यूरो का तिमाही सर्वेक्षण के आंकड़ों पर सरकार से पूछा कि अक्टूबर-दिसंबर 2017 के श्रम ब्यूरो सर्वेक्षण को जारी क्यों नहीं किया गया? सरकार को सलाह देते हुए चिदंबरम ने कहा कि यदि पेट्रोल को जीएसटी के तहत लाया जाए तो कीमतें काफी कम होंगी । केंद्र और 19 राज्यों में बीजेपी की सरकार होने के बावजूद वे कोई कार्रवाई नहीं हो रही है।

इसे भी पढ़ें-: आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे पर बड़ा हादसा, रोडवेज बस ने 9 छात्रों को कुचला, 7 की मौत

चिदंबरम ने युवाओं के रोजगार का सवाल उठाते हुए कहा कि देश भर के विश्वविद्यालयों में युवा परेशान हैं, युवाओं को पता है कि उनके स्नातक होने के बाद कोई नौकरी मिलेगी या नहीं।


कमेंट करें