विज्ञान/टेक्नोलॉजी

अब गिरेगा तो टूटेगा नहीं आपका फोन, जर्मन इंजीनियर ने बनाया मोबाइल एयरबैग (वीडियो)

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
1977
| जून 30 , 2018 , 16:30 IST

अक्सर नया मोबाइल लेने के बाद हम इस बात की फिक्र करते रहते हैं कि अगर ये गिर गया तो फोन की स्क्रीन का क्या होगा? लोग अक्सर अपने फोन को बचाने के लिए तरह तरह के कवर का इस्तेमाल करते हैं। जर्मनी के एक युवा ने मोबाइल यूजर्स को एक बेहतरीन तोहफा दिया है।  25 साल के इंजीनियरिंग स्टूडेंट फिलिप फ्रेंजेल ने मोबाइल के लिए एयरबैग डिवाइस बनाया है, जो बेमिसाल है।  ये डिवाइस स्मार्टफोन के केस की तरह ही और जैसे ही मोबाइल गिरता है तो सेंसर के जरिए ये खुल जाता है और फोन को किसी भी तरह का नुकसान नहीं पहुंचता।

वीडियो में देखें कैसे काम करता है ये डिवाइस 

 

वैसे तो मोबाइल एयरबैग आम कवर और केस की तरह ही दिखता है लेकिन इसमें उन्नत किस्म के सेंसर लगे हैं। मोबाइल एयरबैग डिजाइन करने वाले फ्रेंजेल ने बताया कि जब भी कोई मोबाइल गिरता है उसके ज़मीन पर टकराते ही मोबाइल एयरबैग के चार कोनों पर लगे विंग्स खुल जाते हैं और मोबाइल को कोई भी नुकसान नहीं पहुंचता। 

आमतौर पर एयरबैग अगर एक बार खुल गए, तो उन्हें दोबारा इस्तेमाल में नहीं लाया जा सकता, लेकिन इस डिवाइस में जो मेटल के स्प्रिंग लगे हैं उन्हें दोबारा इस्तेमाल में लाया जा सकता है। दरअसल, एयरबैग खुलने के बाद इसे पुश करने पर इसमें लगे डैंपर दोबारा केस के अंदर चले जाते हैं और इन्हें रीयूज किया जा सकता है।

दरअसल, फ्रेंजेल को ये आइडिया खुद के मोबाइल स्क्रीन टूटने के बाद आया था। उन्हें इस डिवाइस को बनाने में 4 साल का समय लग गया और इसका नाम उन्होंने 'AD' रखा है, जिसका मतलब 'एक्टिव डैंपनिंग' है। फ्रेंजेल को उनके इस इनोवेशन के लिए जर्मनी की मैकॉट्रोनिक्स सोसायटी की तरफ से मैकॉट्रोनिक्स अवॉर्ड भी दिया गया है। उन्होंने अपनी इस डिवाइस का पेटेंट भी करवा लिया है।


कमेंट करें