राजनीति

गिरिराज सिंह के विवादित बोल, दारुल उलूम देवबंद शिक्षा नहीं, आतंकवाद का गढ़

दीपक गुप्ता, न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
1752
| नवंबर 29 , 2018 , 11:11 IST

अक्सर अपने विवादित बयानों से सुर्खियों में रहने वाले केंद्रीय मंत्री और बीजेपी के फायर ब्रांड नेता गिरिराज सिंह ने एक बार फिर विवादित बयान दिया है। उन्होंने विश्व प्रसिद्ध इस्लामिक शिक्षण संस्थान 'दारुल उलूम देवबंद' को आतंकवाद का गढ़ बताया। गिरिराज ने कहा कि हाफिज सईद और बगदादी देवबंद के विद्यार्थी हैं।

देवबंद में स्वामी ब्रह्मानंद सरस्वती के महाकालेश्वर ज्ञान मंदिर आश्रम और गुरुकुल पहुंचे बीजेपी नेता ने कहा कि आज तक देवबंद के गुरुकुल से कोई भी बच्चा आतंकवादी नहीं निकला, लेकिन इसका पता नहीं दारूल उलूम देवबंद शिक्षा का मंदिर है या आतंक का मंदिर है।

हफिज सईद भी यहीं का है और बगदादी भी यहीं का है। यहां लोगों को मानवता के कल्याण के लिए शिक्षा दी जाती है या मानव के संहार के लिए शिक्षा दी जाती है?

राममंदिर पर गिरिराज ने कहा कि मुसलमान हिन्दू समाज के धैर्य की परीक्षा न ले। उन्होंने कहा कि जब देश में तीस लाख मस्जिदें बन सकती हैं तो अयोध्या में भगवान श्रीराम का मंदिर क्यों नहीं बन सकता। भगवान श्रीराम का मंदिर देश के सवा सौ करोड़ हिन्दुओं की आस्था का विषय है। मुसलमानों को यह बात समझनी चाहिए और रामजन्म भूमि पर मंदिर निर्माण में बाधा नहीं बनना चाहिए।


कमेंट करें