नेशनल

यौन उत्पीड़न केस में बुरे फंसे तरूण तेजपाल, 28 सितंबर को तय होंगे आरोप

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
593
| सितंबर 7 , 2017 , 16:16 IST

गोवा की स्थानीय अदालत तहलका मैगजीन के पूर्व एडिटर इन चीफ तरुण तेजपाल पर रेप केस में 28 सितंबर को आरोप तय करेगी। कोर्ट ने तरुण तेजपाल पर रेप मामले में मुकदमा चलाने का आदेश दिया है। 

आपको बता दें कि तरुण तेजपाल पर सीआरपीसी की सेक्शन 327(2) के तहत मुकदमा चल रहा है, कोर्ट ने तरुण तेजपाल को जमानत दे रखी है। वहीं इस मामले में आज कोर्ट की सुनवाई में पेश होने के लिए तरुण तेजपाल पहुंचे थे, तेजपाल की सुनवाई इन-कैमरा या-नी बंद कमरे में हो रही है।

इस मामले में जिस महिला पत्रकार ने तरुण तेजपाल पर आरोप लगाया है उसने कोर्ट से मांग की है कि इस मामले के मीडिया ट्रायल पर रोक लगाई जाए। महिला पत्रकार की ओर से सीआरपीसी के सेक्शन 327(3) के तहत मामला दर्ज कराया गया है, इसके तहत मामले की कैमरे के सामने सुनवाई चलेगी। कोर्ट ने महिला पत्रकार की इस मांग को 15 जून को स्वीकार कर लिया था।

20 नवम्बर 2013 को तहलका पत्रिका ने अपने स्टाफ को सूचित किया कि तेजपाल अगले छह महीने के लिए संपादक के तौर के तौर पर अपना पद छोड़ रहे हैं क्योंकि एक महिला सहयोगी ने उन पर उसका यौन उत्पीड़न करने का आरोप लगाया है। तहलका के प्रबंध संपादक को ईमेल द्वारा भेजी गयी अपनी विस्तृत शिकायत और फिर तेजपाल द्वारा मांगी गयी लिखित माफी के जवाब में, महिला सहयोगी ने मांग की है कि तहलका तेजपाल के विरुद्ध भारत के उच्चतम न्यायालय द्वारा "विशाखा फैसले" में दिये गये दिशा निर्देशों के तहत कार्रवाई करे। गोवा में घटित इस घटना में गोवा पुलिस ने तेजपाल के खिलाफ बलात्कार सहित कई आरोपों में प्राथमिकी दर्ज की है।

कौन हैं तरूण तेजपाल?

तरुण तेजपाल एक भारतीय पत्रकार, प्रकाशक और उपन्यासकार हैं। तेजपाल मार्च 2000  में शुरू हुई तहलका नामक पत्रिका का प्रकाशक और प्रधान संपादक हैं, लेकिन नवम्बर 2013 की शुरुआत के छह महीने के लिए इन्होने अपना पद छोड़ दिया है। तेजपाल ने इससे पहले इंडिया टुडे और इंडियन एक्सप्रेस समूह में संपादक के तौर पर और आउटलुक में प्रबंध संपादक के तौर पर काम किया है।


कमेंट करें