ख़ास रिपोर्ट

क्यों खास है गुजरात में रो-रो फेरी सर्विस की शुरुआत, जानें खूबियां

सतीश वर्मा, न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
1408
| अक्टूबर 22 , 2017 , 13:37 IST

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी रविवार को गुजरात दौरे पर हैं। माना जा रहा है कि ये उनकी गुजरात चुनाव की घोषणा से पहले आखिरी रैली है। गुजरात चुनाव की तारीखों में देर होने के विवाद के बीच ये प्रधानमंत्री की एक महीने में तीसरी गुजरात यात्रा है।

आज की यात्रा में मोदी रोल-ऑन रोल-ऑफ (रो-रो) फेरी सर्विस का उद्घाटन किया। मोदी अपनी यात्रा घोघा से शुरू किया, वहां से फेरी का इस्तेमाल करते हुए दहेज गए। दहेज से वडोदरा के लिए रवाना होकर वहां 1140 करोड़ की परियोजनाओं का शिलान्यास किया।

 

क्या है रो-रो सर्विस, जानें खासियत

सौराष्ट्र और दक्ष‍िण गुजरात के बीच सड़क से दूरी तय करने में कम से कम 10 घंटे का वक्त लगता है

भरूच से भावनगर के बीच सड़क यात्रा लगभग 310 किलोमीटर की है, लेकिन समुद्र के रास्ते यह दूरी सिर्फ 31 किमी है

Fery

रो-रो पैसेंजर सर्विस पहली पैसेंजर फेरी बोट घोघा से समुद्री रास्ते दक्षिण गुजरात में दहेज तक जाएगी

मोदी रविवार को पहले चरण का उद्घाटन किया, जो यात्रियों के लिए है

जबकि दूसरा चरण दो महीने में पूरा होगा और दोनों शहरों के बीच कार भी ले जाई जा सकेगी

PM मोदी ने गुजरात के मुख्यमंत्री रहते हुए जनवरी 2012 में इस परियोजना की आधारशिला रखी थी

रो-रो फेरी सर्विस यात्रियों के साथ-साथ वाहन और माल की ढुलाई भी करेगी

रो-रो फेरी सर्विस में जो नाव इस्तेमाल होगी, उसमें 150 बड़े वाहनों की ढुलाई होगी

साथ ही करीब 1000 लोग एक साथ यात्रा कर सकेंगे

इस फेरी का किराया फिलहाल 600 रुपए रखा गया है

आने वाले समय में इस सर्विस में पिकअप पॉइंट और ऑनलाइन बुकिंग जैसी सेवाएं भी दी जाएंगी

वीडियो में देखिए रो-रो फेरी सर्विस की खासियत

 


कमेंट करें