मनोरंजन

ट्रैफिक सिग्‍नल पर सुजैन को देख दिल दे बैठे थे ऋतिक...जानें माचो मैन के बारे में रोचक बातें

icon अमितेष युवराज सिंह | 0
3724
| जनवरी 10 , 2018 , 10:49 IST

बॉलीवुड सुपरस्‍टार रितिक रोशन का 10 जनवरी बुधवार को 44 वां जन्‍मदिन है। किलर लुक्‍स, डेशिंग स्‍क्रीन प्रजेंस और लाजवाब डांस से लाखों लोगों के दिलों में जगह बनाने वाले रितिक की अगली फिल्‍म "सुपर-30" का प्रशंसकों को बेसब्री से इंतज़ार है। आज उनके 44 वें जन्‍मदिन पर आइये जानते हैं रितिक से जुड़ी 44 बातें।

रितिक के बर्थडे पर यहां हम आपको ऋतिक रोशन और सुजैन की स्टोरी के बारे में बताने जा रहे हैं। रितिक की लाइफ में प्यार की एंट्री फिल्मों में आने से पहले ही हो गई थी। दिलचस्प ये है कि जिस तरह से रितिक के फिल्मी करिअर में फिल्म कहो न प्यार है ने धमाकेदार एंट्री की थी ठीक उसी तरह उनकी रियल लाइफ में इश्क की एंट्री हुई थी। आपको पता है ऋतिक रोशन की जिंदगी में उनकी पूर्व पत्नी सुजैन खान की एंट्री भी किसी फिल्मी सीन से कम नहीं थी? आगे की स्लाइड में जानिए सुजैन की लाइफ में कैसे हुई रितिक की एंट्री।

अक्सर आपने फिल्मों में देखा होगा कि कभी किसी रोड पर पर चलती खूबसूरत महिला पर किसी नौजवान का दिल ठहर जाता है। ठीक उसी तरह ट्रैफिक सिग्नल पर खड़े रितिक का सुजैन पर दिल ठहर गया।

रितिक रोशन की नजरें सुजैन पर उस वक्त पड़ी थी जब वह ट्रैफिक सिग्नल पर खड़े थे और तभी उनकी निगाहें सुजैन पर ठहर सी गईं। सुजैन को देखते ही देखते रितिक love at first side का शिकार हो गए।

ट्रैफिक सिग्नल के बाद रितिक ने सुजैन से जान-पहचान बनाई और छोटी-छोटी मुलाकातें की और धीरे-धीरे एक दूसरे को डेट करने लगे।

रितिक ने एक लंबे रिलेशन के बाद सुजैन को मुंबई के बीच पर प्रपोज किया। सुजैन ने भी रितिक का प्रपोजल एक्सेप्ट करने में देर नहीं की और साल 2000 में ही बेंगलुरु के एक लग्जरियस स्पा में दोनों ने परिवार और कुछ चुनिनंदा दोस्तों की मौजूदगी में शादी कर ली।

1. रितिक रोशन का असली नाम रितिक नागरथ है। उनके पिता राकेश रोशन अभिनेता व फिल्‍मकार हैं। उनके दादा रोशनलाल महान संगीतकार थे।

2. उनके नाना फिल्‍मकार जे. ओमप्रकाश की फिल्‍म "आशा" और फिल्‍म "आपके दीवाने" में 6 साल की उम्र में एक झलक के रूप में रितिक सबसे पहले पर्दे पर नज़र आए।

3. उन्‍होंने 12 साल की उम्र में 1986 में आई फिल्‍म "भगवान दादा" में बतौर बाल कलाकार अभिनय किया था, जिसमें उनके डैडी राकेश रोशन भी थे।

4. बचपन में कुणाल कपूर और उदय चोपड़ा रितिक के क्‍लासमेट थे। अभिषेक बच्‍चन, फरहान अख्‍तर भी उनके बचपन के दोस्‍त हैं।

5. जन्‍म से ही उनके दाएं हाथ में एक अतिरिक्‍त अंगूठा है जिसके कारण स्‍कूल में उनका मज़ाक उड़ाया जाता था।

6. बचपन से ही उन्‍हें हकलाने की समस्‍या थी जो टीन एज में आकर बढ़ गई। एक समय था कि वे एक वाक्‍य तो क्‍या, एक शब्‍द भी ठीक से नहीं बोल पाते थे।

7. वयस्‍क होने के बाद उन्‍हें सिलिकोसिस ने जकड़ लिया। इसके चलते डॉक्‍टरों ने कहा कि वे डांस, स्‍टंट नहीं कर पाएंगे। एक साल तक इसका इलाज चला।

8. उन्‍होंने अभिनेता संजय खान की बेटी सुजैन खान से प्रेम विवाह किया था। वर्ष 2013 में दोनों का तलाक हो गया।

9. अपने पिता के प्रोडक्‍शन की फि़ल्‍मों में सेट पर रितिक ने हर छोटा-बड़ा काम किया। पिता को असिस्‍ट करने के अलावा उन्‍होंने फर्श साफ करने से लेकर स्‍टार्स को चाय तक सर्व की।

10. बतौर हीरो उनकी पहली फिल्‍म "कहो ना प्‍यार है" थी, जो वर्ष 2000 में रिलीज हुई थी। इसमें उनके साथ अभिनेत्री अमीषा की भी यह पहली फिल्‍म थी।

11. "कहो ना प्‍यार है" में पहले करीना कपूर को कास्‍ट किया गया था और कुछ शूटिंग भी हो चुकी थी लेकिन बाद में हीरोइन बदल दी गई और अमीषा को लिया गया।

12. कम ही लोग जानते हैं कि उनका डेब्‍यू प्रीति जिंटा के साथ शेखर कपूर की "फिल्‍म तारा रम पम पम" से होना था जो बाद में कैंसिल हो गई।

13. "कहो ना प्‍यार है" वर्ष 2000 की सबसे बड़ी सुपरहिट ब्‍लॉकबस्‍टर साबित हुई जिसने रिति‍क को रातोरात सुपरस्‍टार बना दिया था।

14. उनकी पहली फिल्‍म "कहो ना प्‍यार है" के नाम पर विशेष कीर्तिमान है। एक फिल्म के लिए सबसे ज्यादा 92 पुरस्कार जीतने के लिए इसका नाम गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड्स में नाम दर्ज है।

15. पहली फिल्‍म की बेपनाह सफलता के बाद रितिक रोशन देश-दुनिया की लड़कियों के सपनों के राजकुमार बन गए थे। वर्ष 2000 के वेलेंटाइन डे पर उनके पास 30 हज़ार शादी के प्रस्‍ताव आए थे जो कि अपने आप में एक अनूठा कीर्तिमान है।

16. अपनी पहली ही फिल्‍म में रितिक ने डबल रोल किए थे। पहले किरदार का नाम रोहित और दूसरे का राज था। पहले किरदार की मौत के बाद दूसरा किरदार हत्‍यारों को मारकर प्रतिशोध लेता है। यह एक रोमांस-एक्‍शन मूवी थी।

17. रितिक रोशन अपनी फिटनेस के लिए जाने जाते हैं लेकिन पिछले कुछ समय से उनके स्वास्थ्य पर असर पड़ा है।

18. रितिक की बहुत बड़ी फैन फालोइंग है लेकिन वे खुद अभिनेत्री परवीन बॉबी के जर्बदस्‍त दीवाने रहे हैं।

19. फिल्मों में रितिक की एक्शन हीरो की छवि वास्तविक जीवन में अलग है। जब पिता राकेश रोशन पर माफिया हमला हुआ तब रितिक ने बॉलीवुड छोड़ने का फैसला किया था, जबकि पहली फिल्‍म को रिलीज हुए महीना भर भी नहीं हुआ था।

20. वर्ष 2003 में आई फिल्‍म "कोई मिल गया" में उन्‍होंने एक मंदबुद्धि लड़के का रोल अदा किया था जो बाद में रूपांतरित होकर एक्‍शन हीरो बन जाता है।

21. हिंदी फिल्‍म सिनेमा के पहले सुपरहीरो बनने की उपलब्धि उनके नाम पर है। 2006 में आई फिल्‍म "क्रिश" के साथ वे बॉलीवुड के पहले सुपर हीरो बने। इस फिल्‍म का सीक्‍वेल "क्रिश-3" 2013 में आया था।

22. रितिक ने अपने 17 साल के करियर में केवल 30 फिल्‍में की हैं। इनमें से अधिकांश में उन्‍होंने विविध व चुनौतीपूर्ण भूमिकाएं की हैं जो उनकी वर्सेटाइलनेस को दर्शाता है।

23. उनकी पहली कमाई 100 रुपए की थी जो उनके नाना जे. ओमप्रकाश ने उन्‍हें दिए थे। इस पैसे से उन्‍होंने 10 हॉट व्‍हील्‍स कार खरीदी थी जो उन दिनों बच्‍चों का प्रिय खिलौना हुआ करता था।

24. हालांकि वे एक स्वस्थ जीवन शैली की वकालत करते हैं, लेकिन रितिक को स्‍वयं धूम्रपान करने की आदत को छोड़ना मुश्किल हो गया। लेकिन एलेन कार्स की किताब "ईज़ीवे टू स्‍टाप स्‍मोकिंग" पढ़ने के बाद उन्‍होंने सिगरेट को छुआ तक नहीं।

25. बॉलीवुड के सबसे स्टाइलिश सितारों में से एक रितिक कैजुअल वियर्स का अपना फैशन ब्रांड एचआरएक्‍स चलाते हैं।

26. उनका निक नेम डुग्‍गू है। यह नाम उनकी दादी ने रखा था। उनके पिता राकेश का निक नेम गुड्डू है। इस नाम से मिलता-जुलता नाम चाहिए था, इसलिए दादी ने इसे उलटकर डुग्‍गू कर दिया।

27. मुंबई के सिडनहैम कॉलेज से कामर्स स्नातक की उपाधि प्राप्त करने के बाद पेरेंट्स चाहते थे कि वे अपनी पढ़ाई अमेरिका में जारी रखें लेकिन उनका सपना केवल एक्‍टर बनने का था।

28. अगर आप उन्‍हें ट्विटर पर फॉलो करते हैं तो आपको पता होगा कि वे अपनी दादी इरा को दीदा के नाम से संबोधित करते हैं। यह उनका प्‍यार जताने का एक तरीका है।

29. रितिक पालतू कुत्‍ते व बिल्लियों दोनों के शौकीन हैं। उनके पेट्स में पपी और पग नाम के पपी और पर्ल व टाइगर नाम की ब‍िल्लियां हैं। उन्‍होंने अपने बच्‍चों के लिए एक छोटा सा शिकारी कुत्‍ता भी लिया जिसका नाम पेरिस है। पगी और पर्ल की मौत हो चुकी है।

30. उनकी शुरुआती फिल्‍मों "फि़ज़ा" और "मिशन" कश्‍मीर में उनकी भूमिकाएं एक जैसी थीं जिसमें उन्‍होंने युवा आतंकी का किरदार निभाया था।

31. 2014 में मुंबई के अंधेरी वेस्‍ट स्थित एक 22 मंजिला कमर्शियल बिल्डिंग में लगी आग में रितिक व अजय देवगन के ऑफिस आग की चपेट में आ गए थे। आग बुझाने में एक दमकलकर्मी की मौत हो गई थी। उसके परिवार को रितिक ने आर्थिक सहायता दी थी।

32. करन जौहर की फिल्‍म "कभी खुशी कभी गम" में रितिक ने एक पतला टाइट स्‍वेटर पहना जो मुश्किल से कमर तक आ पा रहा था लेकिन यह इतना ट्रेंडी बन पड़ा कि इस फिल्‍म में उनके सारे कपड़े इसी डिजाइन में तैयार किए गए। मौजूदा कपड़ों पर भी कैंची चलाकर उन्‍हें छोटा किया गया।

33. अमिताभ बच्चन, ऐश्वर्या राय, शाहरुख खान और सलमान खान के बाद वह पांचवे बॉलीवुड स्टार हैं, जिनकी मैडम तुसाद के प्रसिद्ध संग्रहालय में मोम प्रतिमा स्थापित की गई है।

34. बॉलीवुड के सबसे बेस्‍ट ड्रेस्‍ड हीरो रितिक हमेशा फैशन के साथ एक्‍सपेरिमेंट करते रहते हैं। कोई भी डिजाइन लीक से हटकर लगता है तो वे ट्राय ज़रूर करते हैं।

35. नई सदी की पीढ़ी के बेहतरीन अभिनेताओं के बीच गिने जाने वाले रितिक ने अपनी फिल्म "काइट्स" के साथ अंतरराष्ट्रीय दर्शकों पर काफी प्रभाव डाला। हालांकि फिल्‍म भारत में नहीं चली लेकिन लॉस एंजेलिस टाइम्स ने उनकी खूब प्रशंसा की।

36. 2014 में आई फिल्‍म "बैंग-बैंग" में रितिक ने पानी में एक एक्‍शन सीन किया जो काफी चर्चित रहा। इसे फ्लायबोर्डिंग कहा जाता है। इसके लिए उन्‍होंने बकायदा ट्रेनिंग ली। इसमें ट्रेंड होने वाले वे विश्‍व के छठे व्‍यक्ति हैं।

37. "बैंग-बैंग" की शूटिंग के दौरान उनके जीवन में दो बड़े आघात आए। सुजैन से तलाक और उनकी ब्रेन सर्जरी। ब्रेन में क्‍लॉट जमने पर मुंबई के हिंदुजा अस्‍पताल में उनकी ब्रेन सर्जरी हुई जिसमें वे सकुशल बचकर निकले।

38. रितिक हमेशा सीधे हाथ में घड़ी पहनते हैं और सार्वजनिक स्‍थानों पर अक्‍सर कैप लगाकर निकलते हैं। कैप पहनना उन्‍हें बहुत पसंद है। यही कारण है उनके लगभग सारे पब्लिक अपीयरेंस में वे कैप में ही नज़र आते हैं।

39. वे अपने दोनों बेटो रेहान और रिदान के बहुत करीब हैं। सुजैन से तलाक का उन्‍होंने बच्‍चों की परवरिश पर प्रभाव नहीं पड़ने दिया। वे नियमित रूप से बच्‍चों के साथ समय बिताते हैं, उन्‍हें घुमाते-फिराते हैं और हर ज़रूरत का पूरा ख्‍याल रखते हैं।

40. वे किरदार में डूबकर उसे चित्रित करने के लिए जाने जाते हैं। संजय लीला भंसाली की फिल्‍म "गुज़ारिश" में उन्‍होंने पैराप्‍लेजिक मरीज का रोल किया था जिसमें चलने फिरने की गुंजाइश नहीं थी। रितिक ने चेहरे के भावों और आंखों से इसमें गहरा व बेहतरीन अभिनय किया। इसी तरह "जोधा अकबर" में भी उन्‍होंने अकबर का किरदार निभाया और इसे जीवंत कर दिखाया। "काबिल" में उन्‍होंने अंधे युवक का रोल किया था।

41. फिल्‍मों के चयन के मामले में बेहद चूज़ी रितिक ने पिछले कुछ वर्षों में लगातार फिल्‍में छोड़ी हैं। जिन फिल्‍मों को उन्‍होंने छोड़ा वे बाद में सुपरहिट हुईं।

42. बेंगुलरु के स्‍टार्टअप हेल्थ एंड वेलनेस स्टार्टअप क्योर.फिट (Cure.fit) ने अपने ब्रांड एंबेसडर के रूप में रितिक से एग्रीमेंट किया जो संभवत: सबसे बड़ी एंडोर्समेंट डील में से एक है।

43. रितिक को खाते समय बात करना पसंद नहीं है। खाते समय फोटो लिए जाना उन्‍हें बहुत खलता है, हालांकि एक टीवी शो में उन्‍हें कैमरे के सामने ही कुछ खाकर दिखाना था तो उन्‍होंने जैसे-तैसे यह किया।

44. जबलपुर में फिल्‍म "मोहेन जोदारो" की शूटिंग के दौरान उन्‍हें पता चला कि शहडोल में उनकी फैन निकिता कैंसर पीडि़त है और आखिरी इच्‍छा रितिक से मिलने की जताई है तो उन्‍होंने झट हां कर दी। उन्‍होंने खुद एंबुलेंस में जाकर उससे मुलाकात की और तस्‍वीर खिंचवाई। निकिता आखिरी स्‍टेज पर थी और इस मुलाकात के सात दिन बाद ही उसकी मौत हो गई लेकिन रितिक से मिलने की उसकी आखिरी इच्‍छा पूरी हो गई।


author
अमितेष युवराज सिंह

लेखक न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया में असिस्टेंट एग्जीक्यूटिव एडिटर हैं

कमेंट करें