नेशनल

2 से ज्यादा बच्चों पर छीना जाए वोटिंग राइट, कुंवारों का हो सम्मान: बाबा रामदेव

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
1494
| नवंबर 4 , 2018 , 15:31 IST

योगगुरू बाबा रामदेव ने हरिद्वार में क कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा है कि जो हमारी तरह विवाह न करें, उनका विशेष सम्मान होना चाहिए। साथ ही जो विवाह करें और 2 से ज्यादा बच्चे पैदा करें उनको वोटिंग राइट भी नहीं मिलना चाहिए। रामदेव ने इसके अलावा अपना उदाहरण देते हुए कहा कि मेरी तरह जो व्यक्ति शादी ना करे, उसे समाज में विशेष सम्मान मिलना चाहिए।

बाब रामदेव ने आगे कहा कि प्रचीन काल में जनसंख्या कम थी तो वेदों में तो 10-10 संतानें पैदा करने तक कहा गया है। अब जिसके सामर्थ्य हो, कर लेना। 1-2 उनमें से हमें दे देना। अब तो वैसे ही 125 करोड़ से ज्यादा देश की आबादी है।

स्वामी रामदेव ने कहा कि ये राजनीतिक और राष्ट्रीय मुद्दा है। भले ही वोट के जरिए हम राजनीतिक नेतृत्व चुनते हैं। लेकिन एक विवेकशील पुरुष या महिला हो, कोई जागृत आत्मा हो तो वो हजारों, लाखों, करोड़ों पर भारी पड़ती है।

इससे पहले रामनवमी के मौके पर संन्यासियों को दीक्षा देते हुए रामदेव ने कहा था कि संत बनने और स्वयं को राष्ट्रसेवा के लिए समर्पित करने से ज्यादा आनंददायक कुछ और नहीं हो सकता। इस मौके पर उन्होंने संन्यासी बन गए अपने शिष्यों के परिवारों का भी आभार व्यक्त किया जिन्होंने अपने बच्चों को राष्ट्र सेवा के पुनीत कार्य के लिए समर्पित कर दिया।

वहीं राम राम मंदिर के मसले पर रामदेव ने कहा था कि अगर न्यायालय फैसले में देरी करेगा तो सरकार कानून लाकर मंदिर निर्माण करेगी। उन्होंने कहा था, 'यदि न्यायालय के निर्णय में देर हुई तो संसद में जरूर इसका बिल आएगा, आना ही चाहिए। रामजन्मभूमि पर राम मंदिर नहीं बनेगा तो किसका बनेगा?


कमेंट करें