नेशनल

हिमाचल प्रदेश: लाहौल-स्पीति में भारी बर्फबारी, ट्रैकिंग के लिए गए 35 IIT छात्र लापता

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
1541
| सितंबर 25 , 2018 , 09:57 IST

हिमाचल प्रदेश के लाहौल स्पीति में ट्रैकिंग के लिए गए 45 लोगों के लापता हो गए हैं। लापता 45 लोगों में 35 आईआईटी के छात्र हैं। बर्फबारी और भारी बारिश से मौसम खराब है। वहीं मौसम विभाग ने अगले 24 घंटे भारी बारिश की चेतावनी दी है। लापता 35 छात्र आईआईटी रुड़की के हैं। इन छात्रों में से एक की पहचान अंकित भाटी के तौर पर हुई है। अंकित के पिता राजीव भाटी ने बताया कि यह सभी कुल्लू स्थिति हमता ट्रेकिंग पास में ट्रेकिंग करने गए थे।

एक और लापता छात्र के पिता राजवीर सिंह का कहना है कि ग्रुप के लोग हम्पटा पास पर ट्रैकिंग के लिए गए थे और वहां से वे मशहूर पर्यटन स्थल मनाली लौटने वाले थे। हालांकि अब तक उनका ग्रुप के किसी सदस्य से संपर्क नहीं हो सका है।

बता दें कि हिमाचल प्रदेश के कई इलाकों में भारी बारिश और बर्फबारी हुई है। कुल्लू, कांगड़ा और चंबा जिलों में बारिश से जुड़े अलग-अलग हादसों में 5 लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि कई घायल हैं।

लाहौल स्पीति घूमने 8 लोग सुरक्षति हैं, जिनकी पहले लापता होने की सूचना था। इसकी जानकारी एसडीएम कीलोंग अमर सिंह नेगी ने दी है। बता दें कि मौसम विभाग ने अगले 24 घंटों तक राज्य में भारी बारिश की चेतावनी दी है। प्रशासन ने कलगरा जिले के सभी सरकारी और निजी शैक्षणिक संस्थान और आंगनवाड़ी केंद्र मंगलवार को बंद रखने के आदेश जारी किए हैं। इसके अलावा चंबा में हो रही लगातार बारिश के बाद चेमेरा बांध के गेट पानी छोड़ने के लिए खोले गए हैं।

बाढ़ में कई घर भी बह गए। ब्यास नदी का जलस्तर खतरे के निशान को पार कर चुका है। हिमाचल के वन मंत्री गोविंद सिंह ठाकुर का कहना है कि लोगों को नदियों और नालों के करीब न जाने के निर्देश दिए गए हैं। कुल्लू में जिला प्रशासन ने हाई अलर्ट घोषित किया है। यहां शुरुआती अनुमान के मुताबिक 20 करोड़ की संपत्ति को नुकसान पहुंचा है।

कुल्लू जिले के पर्यटन विकास अधिकारी बीएस नेगी का कहना है कि सभी अडवेंचरस खेल जैसे कि पैराग्लाइडिंग और ट्रैकिंग पर रोक लगा दी गई है। मंगलवार को लगातार दूसरे दिन हमीरपुर, कांगड़ा और कुल्लू में सभी सरकारी और निजी स्कूलों को बंद रखने के आदेश दिए गए हैं।


कमेंट करें