नेशनल

हिंदू महासभा का विवादित कैलेंडर, कुतुबमीनार से लेकर मक्का तक को बताया मंदिर

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
1398
| मार्च 20 , 2018 , 14:10 IST

हिंदू महासभा की अलीगढ़ इकाई ने रविवार को एक हिंदू कैलेंडर जारी किया है। जिसको लेकर विवाद शुरू हो गया है। इस कैलेंडर में ताजमहल सहित 7 मस्जिद और मुगलकाल के स्मारकों की तस्वीरें लगाई गई हैं। इन सभी मुगलकालीन स्मारकों को मंदिर बताया गया है।

कैलेंडर में मुस्लिमों के सबसे बड़े तीर्थ स्थल मक्का को मक्केश्वर महादेव मंदिर बताया गया है। साथ ही यह संदेश छापा गया है कि यहां कभी शिव मंदिर था। इसलिए शिवलिंग आज भी खंडित अवस्था में मौजूद है।

इस कैलेंडर में जौनपुर के अटाला मस्जिद को अटाला देवी मंदिर और बाबरी मस्जिद को राम जन्मभूमि बताया गया है।

इसमें बताया गया है कि यहां मिले राम मंदिर के अवशेष प्रमाणित करते हैं कि कभी यहां भव्य मंदिर था।

यही नहीं, कैलेंडर में कुतुब मीनार को विष्णु स्तंभ बताया गया है।

वहीं, ताजमहल को तेजो महालय शिव मंदिर, मध्य प्रदेश के कमल मौला मस्जिद को भोजशाला और काशी की ज्ञानव्यापी मस्जिद को विश्वनाथ मंदिर बताया गया है।

इस मामले पर महासभा के राष्ट्रीय सचिव पूजा शकुन पांडे का कहना है कि हमने नए साल के मौके पर हवन का आयोजन किया है और इस देश को एक हिंदू राष्ट्र बनाने का संकल्प लिया है।


कमेंट करें