नेशनल

राष्ट्रपति भवन में नहीं होगी इफ्तार पार्टी, रामनाथ कोविंद ने लगाई रोक

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
724
| जून 7 , 2018 , 07:26 IST

राष्ट्रपति भवन में इस साल इफ्तार पार्टी का आयोजन नहीं किया जाएगा। इस बात को लेकर माननीय राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद का कहना है कि करदाताओं के पैसे से राष्ट्रपति भवन में किसी भी धार्मिक कार्यक्रम का आयोजन नहीं होगा।

बता दें कि लगभग 11 साल पहले भी पूर्व राष्ट्रपति एपीजे कलाम के कार्यकाल (2002-2007) में इफ्तार पार्टी का आयोजन नहीं होता था। एपीजे अब्दुल कलाम के कार्यकाल में इफ्तार पार्टी पर होने वाले खर्च की रकम को गरीब और अनाथ लोगों की मदद में खर्च किया गया।

राष्ट्रपति भवन में नही मनेगा किसी धर्म का कोई भी पर्व-:

राष्ट्रपति के मीडिया सचिव अशोक मलिक ने कहा, "25 जुलाई, 2017 को रामनाथ कोविंद ने राष्ट्रपति पद की शपथ ली थी। तभी उन्होंने फैसला किया था कि राष्ट्रपति भवन एक सार्वजनिक इमारत है। यहां सरकार या कर दाताओं के पैसों से किसी भी धर्म का कोई भी आयोजन या पर्व नहीं मनाया जाएगा। यह नियम सभी धर्मों के त्योहारों पर लागू होगा।

हालांकि वे देशवासियों को हर त्योहार पर शुभकामनाएं देंगे। वैसे राष्ट्रपति भवन परिसर में रहने वाले सभी अफसर और कर्मचारी अपने-अपने त्योहार मनाने के लिए स्वतंत्र हैं। उन पर किसी भी प्रकार की कोई रोक नहीं है।"

कैंसिल हो गया था केरोल सिंगिंग का प्रोग्राम-:

2017 में राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के ही कार्यकाल में क्रिसमस पर होने वाली कैरोल सिंगिंग का भी आयोजन नहीं किया गया था। इससे पहले प्रतिभा पाटिल ने अपने कार्यकाल में इस पारंपरिक सेलिब्रेशन को मुंबई हमलों के चलते रद्द कर दिया था। हालांकि, इफ्तार पार्टी प्रतिभा पाटिल और फिर प्रणब मुखर्जी, दोनों के कार्यकाल में हुई।

इफ्तार पार्टी के पैसे से अनाथ की मदद की गई (2002 से 2007 तक) -:

बता दें कि राष्ट्रपति भवन में हर साल इफ्तार पार्टी का आयोजन होता रहा है। पहली बार 2002 में इसके आयोजन पर रोक लगी थी। कलाम के कार्यकाल में लगातार पांच साल तक इसका आयोजन नहीं हुआ।

इसे भी पढ़ें-: उद्धव से मिले अमित शाह, बोले- 2019 ही नहीं 2024 चुनाव में भी बना रहेगा गठबंधन

कलाम के समय में इफ्तार पार्टी पर होने वाले खर्च से गरीब और अनाथ लोगों की मदद की गई थी। इसके बाद प्रतिभा पाटिल और प्रणब मुखर्जी के कार्यकाल में फिर से इफ्तार पार्टी के आयोजन हुए थे।


कमेंट करें