नेशनल

आयुष्मान भारत के साथ लाल किले से PM मोदी ने किए ये 3 बड़े एलान

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
2134
| अगस्त 15 , 2018 , 12:55 IST

PM मोदी ने 72 वें स्वतंत्रता दिवस के मौके पर देशवासियों के सामने अपनी सरकार का रिपोर्ट कार्ड पेश किया साथ ही तीन बड़े ऐलान भी कर दिए। यह ऐलान हेल्थ सेक्टर, अंतरिक्ष और महिलाओं से जुड़ें हैं। इसमें सबसे बड़ी हेल्थ केयर स्कीम 'आयुष्मान भारत', अंतरिक्ष के लिए भारत की भविष्य की योजना और सेना में महिलाओं की एंट्री पर बात की गई।

पहला ऐलानः 2022 तक अंतरिक्ष में पहुंचेगा हिंदुस्तानी-:

पीएम मोदी ने कहा कि देश के वैज्ञानिकों ने 100 से अधिक सैटलाइट छोड़े हैं। अब देश का मानव सहित अंतरिक्ष में जाने का लक्ष्‍य है। वर्ष 2022 तक या उससे पहले यानी आजादी के 75वें वर्ष में भारत का कोई नागरिक अंतरिक्ष में जाएगा। उनके हाथ में तिरंगा होगा। इसके साथ ही भारत मानव को अंतरिक्ष में पहुंचाने वाला देश बन जाएगा।

"मंगलयान से लेकर अबतक भारत के वैज्ञानिकों ने अपनी ताकत का परिचय करवाया है, अब हम मानव सहित गगन यान लेकर जाएंगे और यह गगन यान जब अंतरिक्ष में जाएगा, हिंदुस्तानी इसे लेकर जाएगा तब विश्व के अंदर ऐसा करनेवाले हम चौथे देश होंगे।"

मोदी ने कहा, 'मैं आज देशवासियों को एक खुशखबरी दे रहा हूं। 2022 में जब देश की आजादी के 75 वर्ष पूरे होंगे या हो सके तो उससे पहले मां भारत को कोई संतान, चाहे बेटा हो या बेटी, अंतरिक्ष में जाएगा। उसके हाथ में तिरंगा होगा। इसके साथ ही भारत मानव को अंतरिक्ष में पहुंचाने वाला विश्व का चौथा देश बन जाएगा।'

प्रधानमंत्री ने कहा कि इसरो की उपलब्धियों की सराहना करते हुए कहा कि देश के वैज्ञानिकों ने जब एकसाथ 100 से अधिक सैटलाइट अंतरिक्ष में पहुंचाया तो पूरी दुनिया देखती रह गई। अब देश का लक्ष्य मानव सहित यान अंतरिक्ष में भेजने का है। ध्यान रहे कि 12 अप्रैल 1961 को रूसी अंतरिक्ष वैज्ञानिक यूरी गागरीन दुनिया के पहले ऐसे व्यक्ति बन गए जिन्होंने अंतरिक्ष की यात्रा की।

दूसरा ऐलान: 25 सितंबर से शुरू होगा आयुष्मान भारत -:

आयुष्मान भारत योजना देशभर में 25 सितंबर से शुरू की जाएगी। लाल किले से बोलते हुए पीएम ने कहा कि पंडित दीन दयाल की जयंती पर 'प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना' शुरू कर दी जाएगी। इससे निर्धनों को अच्छी और किफायती हेल्थकेयर सुविधा मिलेगी। पीएम ने बताया कि इसकी टेस्टिंग शुरू हो चुकी है। इस योजना का लाभ उठानेवाले गरीब मरीजों का इंश्योरेंस किया जाएगा और उनका कैशलेस इलाज किया जाएगा। पहले खुद के खर्चे से इलाज करवाकर सरकार से पांच लाख रुपये तक की रकम वापस पाने का झंझट नहीं होगा।

तीसरा ऐलान: सेना में महिलाओं को अधिकार-:

पीएम ने स्वतंत्रता दिवस के मौके पर महिलाओं को भी तोहफा दिया। उन्होंने सेना में महिला अधिकारियों को भी स्थाई कमिशन देने की घोषणा की। पीएम ने बताया कि अब भारतीय सशस्‍त्र सेना में शॉर्ट सर्विस कमिशन के माध्‍यम से नियुक्‍त महिला अधिकारियों को पुरुष समकक्ष अधिकारियों की तरह ही परीक्षा देकर स्‍थाई रोजगार मिल सकेगा। उन्होंने आगे कहा, 'महिलाएं स्‍कूल से लेकर सेना तक कंधे से कंधा मिलाकर आगे बढ़ रही हैं। सुप्रीम कोर्ट में पहली बार तीन महिला न्‍यायाधीश हैं।

जम्मू कश्मीर में निकाय चुनाव की कही बात-: 

इसके अलावा पीएम मोदी ने जम्मू कश्मीर को लेकर भी एक बड़ा ऐलान किया। इसमें उन्होंने बताया कि वहां लंबे समय से टल रहे पंचायत और निकाय चुनाव भी जल्द कराए जाने की तैयारी चल रही है। जम्मू कश्मीर का जिक्र कर पीएम मोदी ने कहा, 'वहां के लिए अटल जी का आह्वान था- इंसानियत, कश्मीरियत, जम्हूरियत। मैंने भी कहा है, जम्मू- कश्मीर की हर समस्या का समाधान गले लगाकर ही किया जा सकता है। हमारी सरकार जम्मू-कश्मीर के सभी क्षेत्रों और सभी वर्गों के विकास के लिए प्रतिबद्ध है।'


कमेंट करें