नेशनल

ईरान और भारत के बीच हुए नौ समझौते, PM मोदी ने चाबहार पोर्ट के लिए कहा- शुक्रिया

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
1010
| फरवरी 17 , 2018 , 15:11 IST

दिल्ली में शनिवार को भारत और ईरान के बीच कई बड़े समझौते हुए। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और ईरान के राष्ट्रपति हासन रूहानी की मौजूदगी में दोनों देशों ने एमओयू पर हस्ताक्षर किए। इन समझौतों में सबसे खास चाबहार बंदरगाह पर समझौता है।

रवीश कुमार ने ट्वीट कर कहा, "दोनों नेताओं के बीच चर्चा के दौरान ऊर्जा, कनेक्टिविटी, आईटी, शिक्षा, संस्कृति और लोगों के बीच संपर्क बढ़ाने पर चर्चा हुई।

ईरानी राष्ट्रपति ने कहा है- 'दोनों देशों के बीच संबंध बिजनेस से कहीं ज्यादा है, दोनों देशों के संबंध ऐतिहासिक है।' रूहानी ने कहा कि 'हमने 2 महत्वपूर्ण मुद्दों (पारगमन और अर्थव्यवस्था) पर विचार साझा किया। हम दोनों देशों (भारत और ईरान) के बीच रेलवे संबंधों को विकसित करना चाहते हैं। दोनों ही देश चाबहार पोर्ट को विकसित होता देख रहे हैं।'

वहीं पीएम मोदी ने अपने संबोधन में कहा- 'हम दोनों देश हमारे पड़ोसी देश अफगानिस्तान के विकास की कामना करते हैं। हम चाहते हैं कि हमारे पड़ोसी देशों में आतंकवाद का साया भी न हो। 

पीएम ने कहा कि 'आपने जिस तरह से चाबहार पोर्ट के विकास में नेतृत्व प्रदान किया है, उसके लिए मैं आपको धन्यवाद देता हूं।'

भारत ईरान का पोस्टल स्टैंप जारी:

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और ईरान के राष्ट्रपति हसन रूहानी ने भारत और ईरान का ज्वाइंट पोस्टल स्टैंप भी जारी किया। इस मौके पर ईरान के राष्ट्रपति हसन रूहानी ने कहा कि भारत और ईरान के संबंध व्यापार और बिजनेस से भी ऊपर है, यह इतिहास रचेगा। रूहानी ने भारत सरकार और यहां के लोगों का धन्यवाद भी किया।

-आपको बता दें कि भारत दौरे पर आए ईरान के राष्ट्रपति हसन रूहानी को शनिवार (17 फरवरी) को नई दिल्ली के राष्ट्रपति भवन में 'गार्ड ऑफ ऑनर' दिया गया।

हसन रूहानी ने राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के साथ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अन्य शीर्ष अधिकारियों के साथ मुलाकात भी की। मुलाकात के बाद ईरान के राष्ट्रपति हसन रूहानी राजघाट पहुंचे, जहां उन्होंने महात्मा गांधी को श्रद्धांजलि दी।


कमेंट करें