नेशनल

भारत रहने के लिए दुनिया का दूसरा सबसे सस्ता देश : सर्वे

icon अमितेष युवराज सिंह | 0
611
| जनवरी 28 , 2018 , 16:18 IST

दुनिया में रहन-सहन के मामले में भारत दूसरे नंबर का सबसे सस्ता देश है। 112 देशों पर किए सर्वे में इस बात का खुलासा किया गया है कि आम लोगों के रहने के मामले में दुनिया के सस्ते देशों में भारत का नाम आता है, जबकि पहले नंबर पर दक्षिण अफ्रीका का नाम आता है। यह सर्वेक्षण गो बैंकिंग रेट्स (GoBankingRates) ने किया है। उसने देशों की रैंकिंग 4 प्रमुख मानकों पर तय की है।

इसके लिए उसने नमबियो द्वारा ऑनलाइन जुटाए गए आंकड़ों का आकलन किया। सर्वेक्षण में स्थानीय क्रयशक्ति सूचकांक, किराया सूचकांक, आम उपभोग की वस्तुओं के (ग्रॉसरी) सूचकांक और उपभोक्ता मूल्य सूचकांक मानकों के आधार पर रैंकिंग की गई है।

दुनिया के 50 सबसे सस्ते देशों में किराए के मामले में भारत दूसरे स्थान पर है। उससे ऊपर सिर्फ पड़ोसी देश नेपाल का नाम आता है। इस हिसाब से अन्य देशों के मुकाबले रहने के लिए भारत सबसे सस्ता देश है।

कंज्यूमर और ग्रॉसरी की कीमतों के हिसाब से भी भारत सबसे सस्ता देश है। जहां महानगर कोलकाता में 285 डॉलर महीने की खर्च में एक अकेला आदमी अपना गुजर-बसर कर सकता है।

India-live_2018017139

सर्वेक्षण के हिसाब से 125 करोड़ की आबादी वाला भारत दुनिया के 50 सबसे सस्ते और ज्यादा आबादी वाले देशों में से एक है। यहां प्रमुख उद्योग कपड़ा, केमिकल और फूड प्रोसेसिंग है। इसके अलावा भारत के कई शहरों में लोकल परचेजिंग भी अधिक है।

सर्वेक्षण के मुताबिक, भारतीयों की लोकल परचेजिंग 20.9% सस्ती, किराया 95.2% सस्ता, ग्रॉसरी की कीमत 74.4% सस्ती और लोकल सामान और सेवाएं 74.9% सस्ती हैं।

भारत के पड़ोसी मुल्क पाकिस्तान का इस सूची में 14वां स्थान है। इसके अलावा कोलंबिया का 13वां, नेपाल का 28वां और बांग्लादेश का 40वां स्थान है।

 

 


author
अमितेष युवराज सिंह

लेखक न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया में असिस्टेंट एग्जीक्यूटिव एडिटर हैं

कमेंट करें