नेशनल

अब रूस से आसानी से हथियार खरीद सकेगा भारत, अमेरिकी सीनेट ने दी मंजूरी

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
2113
| अगस्त 2 , 2018 , 15:18 IST

अमेरिका से भारत के लिए अच्छी खबर आई है। बुधवार को अमेरिकी सीनेट ने ‘नेशनल डिफेंस अथॉराइजेशन एक्ट 2019 विधेयक को मंजूरी दे दी है। इस विधेयक के पारित होने के बाद रूस से हथियार खरीदने पर अमेरिकी प्रतिबंधों का खतरा खत्म हो जाएगा। इसके बाद भारत का रूस से हवाई सुरक्षा प्रणाली खरीदने का रास्ता साफ हो जाएगा।

MID__एनडीएए में भारत समेत अमेरिका के दूसरे प्रमुख सहयोगी देशों को रूस से हथियार सौदे करने पर लगने वाले प्रतिबंधों से छूट दी गई है। इसे पारित कराने में अमेरिका के विदेश मंत्री जेम्स मैटिस और रक्षा मंत्री माइक पॉम्पियो की भूमिका अहम रही है। इन दोनों का कहना था कि रूस को सजा देने के लिए अन्य देशों पर प्रतिबंध लगाने से वे और करीब आ सकते हैं।

व्हाइट हाउस में राष्ट्र सुरक्षा परिषद के सदस्य रहे जोसुआ व्हाइट ने बताया कि सीएएटीएसए के नये संशोधित प्रावधानों को कानूनी रूप मिलने के बाद भारत के लिए रूस से एस-400 मिसाइल रक्षा प्रणाली खरीदना आसान हो जाएगा। उनका कहना है कि कानून की भाषा बेहद कठोर लग रही है, लेकिन रूस से रक्षा खरीद करने वाले देशों के खिलाफ प्रतिबंध लगाने वाले प्रावधानों का बेहद नरम कर दिया गया है।

साल 2016 के राष्ट्रपति चुनाव में कथित रूप से हस्तक्षेप करने के मामले में रूस को दंडित करने के लिए अमेरिका ने 2017 में एक कानून बनाया था। काउंटरिंग अमेरिकाज एडवर्सरीज थ्रू सैंक्शन्स एक्ट नामक इस कानून में रूस से रक्षा सौदे करने वाले देशों पर प्रतिबंध लगाए जाने संबंधी प्रावधान किए गए थे।

इस विधेयक में सीएएटीएसए के प्रावधान 231 को समाप्त करने की बात कही गयी है। व्हाइट हाउस में राष्ट्र सुरक्षा परिषद के सदस्य रहे जोसुआ व्हाइट ने पीटीआई को बताया कि सीएएटीएसए के नये संशोधित प्रावधानों को कानूनी रूप मिलने के बाद भारत के लिए रूस से एस-400 मिसाइल रक्षा प्रणाली खरीदना आसान हो जाएगा।


कमेंट करें