इंटरनेशनल

कुलभूषण मामले में US में सड़कों पर उतरे लोग, पाक को बताया ‘चप्पल चोर’

icon अमितेष युवराज सिंह | 0
430
| जनवरी 8 , 2018 , 10:23 IST

पाकिस्‍तान में कुलभूषण जाधव की मां और पत्‍नी के साथ हुए दुर्व्‍यवहार को लेकर लोगों का गुस्‍सा शांत नहीं हुआ है। इसको लेकर पाकिस्‍तान दुनियाभर में आलोचनाएं झेल रहा है।

अमेरिका में पाकिस्‍तान दूतावास के बाहर विरोध-प्रदर्शन किया गया। भारतीय-अमेरिकियों और बलूचिस्‍तानियों के एक समूह ने पाकिस्‍तान के खिलाफ जमकर नारे लगाए और उसे 'चप्‍पल चोर' करार दिया।

इतना ही नहीं ये प्रदर्शनकारी पाकिस्‍तान को देने के लिए चप्‍पल लेकर भी आए। प्रदर्शनकारियों ने कहा कि उन्‍होंने कुलभूषण जाधव की पत्‍नी की चप्‍प तब चुराई जब वह संकट में थ। प्रदर्शनकारी ने कहा कि मुझे उम्‍मीद है कि ये इन चप्‍पलों का भी इस्‍तेमाल करेंगे। उन्‍होंने कहा कि पाकिस्‍तान का मतलब क्‍या है? अमेरिका से डॉलर ला, हिंदुस्तान के जूते खा!"

एक और प्रदर्शनकारी का कहना है कि, "यह घटना पाकिस्तान की छोटी सोच प्रदर्शित करती है, इसे लोगों को समझने की जरूरत है।"

हाल ही में पूर्व भारतीय नौसेना अधिकारी जाधव से मिलने उनकी मां और पत्‍नी पाकिस्‍तान गई थीं, मगर वहां उनके साथ अधिकारियों ने दुर्व्‍यवहार किया। मुलाकात से ठीक पहले उनके कपड़े बदलवा दिए। वहीं बिंदी, मंगलसूत्र तक हटवा दिए। यहां तक पत्‍नी के जूते तक वापस नहीं किए। उन्‍हें शक था कि जाधव की पत्‍नी के जूते में कुछ है। इस दुर्व्‍यवहार को लेकर भारत ने कड़ी निंदा जताई। वहीं मुलाकात हुई भी तो उनके बीच में शीशे की एक दीवार खड़ी कर दी गई। एक इंटरकॉम के जरिए बातचीत हुई।

हालांकि पाकिस्‍तान ने अपने ऊपर लगे सभी आरोपों से इंकार किया है। वहीं हाल ही में अपने बचाव में एक प्रोपगंडा वीडिया भी जारी किया था, जिसमें कुलभूषण जाधव से अपने पक्ष में कई झूठी बातें कहलवाई थीं। जैसे कि जाधव उस वीडियो में यह कहते नजर आए कि पाक अधिकारियों ने उनके साथ कोई दुर्व्‍यवहार नहीं किया है। बल्कि वह मां और पत्‍नी से मिलवाने के लिए पाकिस्‍तान का शुक्रिया अदा करते हैं।

इतना ही नहीं, जाधव वीडियो में उल्‍टे भारत पर आरोप लगाते भी दिखे। उन्‍होंने कहा कि जब उनकी मां और पत्‍नी उनसे मिलने आईं तो उनकी आंखों में भय था। पता नहीं भारतीय अधिकारी उनके साथ कैसे पेश आ रहे हैं। यह भी कहा कि उनकी मां उनसे मिलकर बहुत खुश हुईं। यह बात भी कही कि वह अब भी भारत के एजेंट हैं। पता नहीं क्‍योंकि भारतीय अधिकारी इससे इंकार कर रहे हैं।

आपको बता दें कि जाधव पर पाकिस्‍तान ने जासूसी का आरोप लगाते हुए मौत की सजा सुनाई है। हालांकि अभी यह मामला अंतरराष्‍ट्रीय न्‍यायालय में है और फिलहाल इस सजा पर रोक लगा दी गई है।


author
अमितेष युवराज सिंह

लेखक न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया में असिस्टेंट एग्जीक्यूटिव एडिटर हैं

कमेंट करें