मनोरंजन

इस एक्ट्रेस पर फिदा थे शम्मी कपूर लेकिन शादी पर आकर बात रुक गई | 7 कहानियां

icon अमितेष युवराज सिंह | 0
1769
| अक्टूबर 21 , 2017 , 11:05 IST

शनिवार को दिग्गज अभिनेता शम्मी कपूर का  जन्मदिन है। बॉलीवुड के पूर्व अभिनेता शम्मी कपूर का जन्म 21 अक्टूबर 1931 को हुआ था। शम्मी कपूर बेहतरीन अभिनेता के साथ- साथ एक अच्छे डांसर भी थे। आज भी लोग उनके गानों पर झूमने लगते हैं। शम्मी कपूर की जिंदगी आसान नहीं रही। हम आपको बता रहे हैं उनकी जिदंगी से जुड़ी कुछ ऐसी बातें जिनके बारे में आप नहीं जानते होंगे।

Mediaqoj1professor5

1. शम्मी कपूर का असली नाम शमशेर राज कपूर था

शम्मी कपूर के पिता पृथ्वीराज कपूर फिल्म इंडस्ट्री के महान अभिनेता थे। घर में फिल्मी माहौल पहले से ही था। शम्मी कपूर ने फिल्म जीवन 'ज्योति' से बतौर बॉलीवुड में कदम रखा। फिल्म अभिनेता शम्मी कपूर किसी रॉकस्टार से कम नहीं थे। उनका असली नाम शमशेर राज कपूर था।

Mediakx1116slid1

2. अभिनय को दिया नया मुकाम

बॉलीवुड के अन्य अभिनेताओं की तरह अभिनय न करते हुए, शम्मी कपूर लगातार अपने अभिनय मे बदलाव लेकर आए। ऐसा इसलिए क्योंकि उन्होंने उदासी, मायूसी और देवदास नुमा अभिनय की परम्परागत को न अपनाते नयी शैली के साथ काम किया।

Media0673shammi-kapoor-11

3. मुमताज से शादी करना चाहते थे शम्मी कपूर

मुमताज जब 18 साल की थीं तभी शम्मी कपूर ने उन्हें शादी के लिए प्रपोज कर दिया था। मुमताज भी शम्मी से प्यार करती थीं। शम्मी चाहते थे कि अपना फिल्मी करियर छोड़कर मुमताज उनसे शादी कर लें, लेकिन मुमताज ने इनकार कर दिया।

Mumtaz2

4. गीता बाली बनी शम्मी कपूर की संगिनी

शम्मी कपूर की जिंदगी में दो ‍पत्नियां आईं। गीता बाली और नीला देवी। गीता बाली 'रंगीला रतन' फिल्म के दौरान मिली। दोनो को एक दूसरे से प्यार हो गया। लेकिल कपूर खानदान में एक नियम था कि फिल्म एक्ट्रेस से कोई शादी नहीं करेगा। इसलिए कुछ महिने बाद मुंबई के एक मंदिर में दोनो ने शादी कर ली और उसके बाद ही अपने परिवार को बताया। उम्र में गीता, शम्मी से बड़ी थी और उस जमाने में इसे बेमेल जोड़ी माना जाता था।

Shammikapoor-geetabali

5. पत्नी की मौत से सदमे में थे शम्मी कपूर

1965 में चेचक की वजह से गीता बाली की मृत्यु हो गई जिसका शम्मी को गहरा झटका लगा। उन्होंने अपने आप पर ध्यान देना छोड़ दिया। वजन बहुत बढ़ गया और इससे बतौर हीरो उनका करियर भी प्रभावित हुआ।

Mediagst916slid2

6. दूसरी शादी के लिए ये रखी शर्त

पहली पत्नी की मौत के बाद घर वालों ने दूसरी शादी का दबाव बनाया क्योंकि शम्मी के बच्चे छोटे थे। शम्मी मान गए और गीता की मौत के चार वर्ष बाद 1969 में उन्होंने भावनगर की रॉयल फैमिली की नीला देवी से शादी कर ली। लेकिन शम्मी ने गीता के सामने शर्त रखी कि वह मां नहीं बनेंगी। उन्हें गीता के बच्चों को ही पालना होगा। नीला देवी मान गई। वे ताउम्र अपने बच्चों की मां नहीं बनी और गीता के बच्चों को ही अपना माना।

4ShammiDeviX140811

7. ये फिल्में रही खास

शम्मी कपूर ने अपने पांच दशक के सिने करियर में लगभग 200 फिल्मों में काम किया। उनकी कुछ उल्लेखनीय फिल्में हैं रंगीन रातें, तुमसा नहीं देखा, मुजरिम, उजाला, दिल देके देखो, जंगली, प्रोफेसर, चाइना टाउन, ब्लफ मास्टर, कश्मीर की कली, राजकुमार, जानवर, तीसरी मंजिल, ऐन इवनिंग इन पेरिस, ब्रम्हचारी, तुमसे अच्छा कौन है, प्रिंस, अंदाज, जमीर, परवरिश, प्रेम रोग, विधाता, देशप्रेमी, हीरो आदि।

यहां देखें शम्मी कपूर के बेहतरीन गानें


author
अमितेष युवराज सिंह

लेखक न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया में असिस्टेंट एग्जीक्यूटिव एडिटर हैं

कमेंट करें