खेल

कावेरी विवाद के वजह से चेन्नई में नहीं होंगे IPL 11 के बाकी मैच

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
481
| अप्रैल 11 , 2018 , 18:22 IST

कावेरी जल विवाद को लेकर IPL पर भी ग्रहण लगता दिख रहा है। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने कावेरी विवाद को लेकर चल रहे विरोध प्रदर्शन के चलते चेन्‍नई में होने वाले आईपीएल मैचों को किसी दूसरे स्‍थान पर शिफ्ट करने का फैसला किया है। गौरतलब है कि कावेरी जल विवाद को लेकर तमिनलाडु में तनाव का माहौल है जिसके चलते बोर्ड को यह फैसला लेना पड़ा।

समाचार सूत्र एएनआई के मुताबिक से यह जानकारी मिली है। कावेरी प्रबंधन बोर्ड के गठन को लेकर तमिलनाडु में राजनीतिक दलों का विरोध प्रदर्शन जारी है। जिसके बाद चेन्नई पुलिस ने आईपीएल को सुरक्षा मुहैया कराने से इंकार कर दिया है।

बीसीसीआई ने कावेरी संकट के कारण चेन्नई सुपर किंग्स के घरेलू मैचों के लिए चार स्टैंड बाई शहरों का चयन किया है। आईपीएल सूत्रों के मुताबिक इन चार शहरों में विशाखापट्टनम का नाम सबसे आगे है। इसके अलावा अन्य शहर हैं - त्रिवेन्द्रम, पुणे और राजकोट।

IPL कमिश्नर राजीव शुक्ला ने सुरक्षा बढ़ाने को लेकर केंद्रीय गृह सचिव से भी बात की और चेन्नई में IPL मैचों की सुरक्षा के लिए सीआरपीएफ की टुकड़ियां भेजने का प्रस्ताव रखा। लेकिन बात नहीं बनी। जिसके बाद BCCI के सामने चेन्नई के मैचों का वेन्यू बदलने के अलावा और कोई रास्ता नहीं बचा।

रजनीकांत भी जता चुके हैं विरोध-:

आपको बता दें कि बीते दिनों अभिनेता रजनीकांत ने भी कहा है कि चेन्नई में मैच खेलना शर्मनाक है, क्योंकि तमिलनाडु के लोग कावेरी जल विवाद से सुलग रहे है और यहां मैच होने वाला है। वहीं अभिनेता रजनीकांत ने यह भी कहा था, कि 'अगर यहां मैच होता भी है, तो चेन्नई सुपर किंग्स के खिलाड़ियों को अपने-अपने हाथों पर काले रंग की पट्टी बांधना होगा, जिससे यह मुद्दा और आगे बढ़े और कावेरी जल विवाद खत्म हो।'

क्या है कावेरी जल विवाद-:

आपको बता दें कि कावेरी नदी जिसका उद्गम स्थल कर्नाटक राज्य का कोडागु जिला है और यह लगभग साढ़े साथ सौ किलोमीटर लंबी है। लेकिन अभी विवाद यह है कि कम बारिश के कारण यहां इस नदी में पानी की मात्रा कम है।

इस कारण कर्नाटक ने तमिलनाडु को पानी देने से मना कर दिया है, जिसके कारण यह पिछले काफी सालों से विवाद चल रहा है। साथ ही इसके लिए तमिलनाडु ने सुप्रीम कोर्ट तक भी गए है। इस प्रकार इन दिनों जिस तरह से तमिलनाडु में कावेरी विवाद चल रहा है वह वहां के लोगों के लिए बहुत गलत है।


कमेंट करें