नेशनल

15 साल बाद भारत में इजरायली PM, मोदी ने की आगवानी, होगी 445 Cr की मिसाइल डील

सतीश वर्मा, न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
274
| जनवरी 14 , 2018 , 16:22 IST

इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू रविवार को 6 दिन के दौरे पर नई दिल्ली पहुंचे। यह 15 साल बाद किसी इजरायली पीएम का भारत दौरा है। इससे पहले 2003 में पीएम एरियल शेरॉन भारत आए थे। यह इजरायली पीएम का किसी देश का सबसे लंबा दौरा भी बताया जा रहा है। नेतन्याहू का यह दौरा भारत-इजरायल की दोस्ती के लिहाज से क्योंकि यूएन में भारत ने येरूशलम को राजधानी घोषित करने के विरोध में वोट किया था। मोदी, नेतन्याहू के बीच सोमवार को हैदराबाद हाउस में बैठक होगी। इसमें फिलीस्तीन, येरूशलम, मिडिल-ईस्ट विवाद आदि मुद्दों पर बात हो सकती है।

खुद मोदी ने की आगवानी

दोनों प्रधानमंत्री एक प्रोग्राम में शिरकत करेंगे, जहां तीन मूर्ति चौक का नाम बदलकर तीन मूर्ति हाएफा चौक कर दिया जाएगा।

445 करोड़ की मिसाइल डील होगी

नेतन्याहू आगरा, अहमदाबाद और मुंबई भी जाएंगे। वह अपने साथ सबसे बड़ा डेलिगेशन लेकर भारत आ रहे हैं। इनमें 130 बिजनेसमैन हैं। इस दौरे पर भारत, इजरायल के बीच 445 करोड़ रु. के जमीन से हवा में मार करने वाली 131 मिसाइलों समेत अन्य समझौते होंगे।

करार: 3181 करोड़ रु. की एंटी टैंक मिसाइल डील हो सकती है

कुछ दिन पहले भारत ने इजरायल के साथ 3181 करोड़ रु. की एंटी टैंक स्पाइक मिसाइल डील और रॉफेल वेपंस डील निरस्त कर दी थी। हालांकि अब कहा जा रहा है नेतन्याहू, मोदी के साथ इस डील को दोबारा कन्फर्म कर सकते हैं। इसके तहत इजरायल, भारत को 8,000 एंटी टैंक स्पाइक मिसाइल देगा।

बिजनेस: भारत हर साल इजरायल से 6400 करोड़ के हथियार लेता है

दोनों देशों के रक्षा, कृषि, साइबर सिक्युरिटी, मेडिसिन, सिनेमा, जल, रक्षा, फूड इंडस्ट्री, साइंस एंड टेक्नोलॉजी, व्यापार आदि क्षेत्रों में नए समझौते हो सकते हैं। भारत और इजरायल के बीच हर साल करीब 25,452 करोड़ रु. का कारोबार होता है। भारत हर साल करीब 6400 करोड़ रु. के हथियार इजरायल से खरीदता है।


कमेंट करें