नेशनल

लखनऊ में इस जगह पर सेल्फी लेना मना है! अगर पकड़े गए तो हो सकती है जेल

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
483
| दिसंबर 21 , 2017 , 17:27 IST

सोशल मीडिया के चकाचौंध में हर कोई सेल्फी का दीवाना बनता जा रहा है। आज के दौर में सेल्फी ने अपना अलग मुकाम बना लिया है। ऐसे में सेल्फी लेने वालों के लिए बुरी ख़बर है लेकिन ये खबर सिर्फ उनके लिए बुरी है, जो लखनऊ में रहते हैं। अगर कोई भी यहां सेल्फी या फिर फोटो खींचते पकड़ा गया तो उसको जेल भी जाना पड़ सकता है।

हम बात कर कर रहे हैं लखनऊ में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के सरकारी आवास के पास की।सीएम आवास के पास  पांच कालीदास मार्ग पर अगर आपने सेल्फी लेने की कोशिश भी कि तो आपको जेल जाना पड़ सकता है। उत्तर प्रदेश सरकार सेल्फी के मुद्दे पर बेहद सख्त है इस बात को योगी सरकार ने बाकायदा बोर्ड़ पर लिख रहा है। मतलब कि मुख्यमंत्री के सरकारी आवास, पांच कालीदास के आस-पास के इलाकों में अगर आप सेल्फी लेना चाहते हैं तो आपको जेल की सैर भी करने को भी मिल सकता है।

Selfie-1

योगी सरकार का यह फैंसला शायद युवाओं को ज्यादा पसंद नहीं आया हो लेकिन लखनऊ में मुख्यमंत्री आवास पर अब से किसी को भी सेल्फी लेने की इजाजत नहीं है। उत्तर प्रदेश पुलिस ने मुख्यमंत्री आवास पर किसी को भी सेल्फी लेने पर बैन लगा दिया है। इतना ही नहीं लोगो को सूचित करने के लिए सीएम आवास के बाहर सड़क पर ही एक बोर्ड भी लगा दिया गया है। बात आगर यूपी पुलिस की करें तो उन्होंने कहा कि, हाई सिक्योरिटी जोन होने के कारण हमें ऐसा फैसला लेना पड़ा।

मुख्यमंत्री आवास के इस बोर्ड की तस्वीर वायरल होते ही उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने भी यूपी पुलिस द्वारा किए गए इस कार्य़ पर तंज कसते हुए ट्वीट किया। अखिलेश ने ट्वीट कर लिखा कि, नए साल में जनता को उत्तर प्रदेश सरकार का तोहफा, सेल्फी लेने पर लग सकता है यूपीकोका। ट्वीट पर चुटकी लेनें के बाद समाजवादी पार्टी सदन से लेकर सड़क तक सरकार के इस फैसलों का विरोध कर रही है।

इतना ही नहीं अखिलेश ने यूपीकोका को लेकर एक और ट्वीट किया था जिसमें उन्होंने लिखा कि, यूपीकोका नहीं ये धोखा है। यह वही यूपीकोका है जो फर्नीचर साफ करने के पाउडर को PETN विस्फोटक बताते हैं और जनता को बहकाते हैं क्योंकि ये लोग जनता को बहकाने में माहिर हैं।


कमेंट करें