नेशनल

कश्मीर पर वार्ताकार की नियुक्ति के बाद फारूक बोले- पाक के लोगों से भी करनी होगी बात

icon अमितेष युवराज सिंह | 0
464
| अक्टूबर 23 , 2017 , 22:29 IST

कश्मीर पर बातचीत शुरू करने की दिशा में केंद्र की तरफ से वार्ताकार नियुक्त किए जाने का जहां राज्य की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने स्वागत किया है तो वहीं राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री और विपक्षी दल नैशनल कॉन्फ्रेंस के संरक्षक फारुक अब्दुल्ला ने कहा है कि इस मामले में पाकिस्तान भी एक पक्ष है। फारुक अब्दुल्ला ने कहा, 'राज्य की समस्या में पाकिस्तान भी एक पक्ष है। यह एक राजनीतिक समस्या है और इसमें केवल जम्मू-कश्मीर और लद्दाख के लोगों से बात किया जाना शामिल नहीं है बल्कि उन्हें पाकिस्तान से भी बात करनी होगी।'

कश्मीर पर बातचीत की शुरुआत के लिए पूर्व आईबी चीफ दिनेश्वर शर्मा को वार्ताकार नियुक्त किए जाने की घोषणा करते हुए गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि उन्हें कश्मीर में सभी पक्षों से बातचीत किए जाने की आजादी दी गई है। हालांकि सिंह ने इस मामले में पाकिस्तान को पक्ष बनाए जाने के बारे में कुछ नहीं कहा। केंद्र सरकार कश्मीर की मौजूदा समस्या के लिए पाकिस्तान को जिम्मेदार मानता रहा है।

कश्मीर मुद्दे के समाधान के लिए वार्ताकार की नियुक्ति किए जाने के फैसले को पूर्व वित्त और गृहमंत्री पी चिदंबरम ने इसे विपक्ष की जीत बताया। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी चिदंबरम ने ट्वीट कर कहा, ''बातचीत नहीं' से 'सभी पक्षों से बातचीत', यह उन लोगों की बड़ी जीत है जो जम्मू-कश्मीर में राजनीतिक समाधान की पैरवी करते हैं।'

गौरतलब है कि इससे पहले यूपीए की सरकार के समय में भी पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने तीन सदस्यीय वार्ताकाल समिति की नियुक्ति की थी, हालांकि इस समिति की सिफारिशों को पूरी तरह से नजरअंदाज किया गया।


author
अमितेष युवराज सिंह

लेखक न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया में असिस्टेंट एग्जीक्यूटिव एडिटर हैं

कमेंट करें