नेशनल

सज्जाद लोन को CM बनाना चाहता था केंद्र, पर ये बेईमानी होती: J & K गवर्नर सत्पाल मलिक

icon अमितेष युवराज सिंह | 0
1741
| नवंबर 27 , 2018 , 15:01 IST

जम्मू- कश्मीर के सत्पाल मलिक ने कहा दिल्ली सज्जाद लोन को मुख्यमंत्री बनवाना चाहती थी। उन्होंने आगे कहा कि अगर ऐसा करता तो ये बेईमानी होती।

बता दें कि दो दिन पहले ग्वालियर की एक प्राइवेट यूनिवर्सिटी के दीक्षांत समारोह में सत्यपाल मलिक ने कहा था कि केंद्र से सज्जाद लोन को सीएम बनाने के लिए कहा गया था। अगर मैं ऐसा करता तो ये बेईमानी होती। अब उन्होंने कहा कि दिल्ली की तरफ से कोई दबाव या दखल नहीं था। आज वे दो दिन पहले दिए अपने बयान से पलट गए हैं। आज उन्होंने कहा कि दिल्ली से न तो कोई दबाव था और न ही किसी तरह का दखल। गवर्नर के बयान पर राज्य के पूर्व उपमुख्यमंत्री कवींद्र गुप्ता ने कहा कि राज्यपाल पर कोई दबाव नहीं था। वे सिर्फ सुर्खियों में बने रहने के लिए ऐसा बयान दे रहे।

सत्यपाल मलिक ने कहा था कि अगर महबूबा मुफ्ती और उमर अब्दुल्ला सरकार बनाने के प्रति गंभीर होते तो फोन कर सकते थे, किसी के हाथों पत्र भेज सकते थे. मेरा फोन हमेशा खुला रहता है, रात को दो बजे भी...मैं तो व्हाट्सऐप पर भी मैसेज आने पर समस्याएं हल करने की कोशिश करता हूं।'

मलिक ने कहा था कि महबूबा मुफ्ती ने मुझसे एक हफ्ते पहले कहा था कि उनके विधायकों को धमकाया जा रहा है। मलिक ने कहा कि सज्जाद लोन भी कह रहे थे कि उनके पास भी पर्याप्त विधायक हैं। उनके विधायकों को भी धमकाया जा रहा है। ऐसे में लोन को मौका देकर मैं पक्षपात नहीं करना चाहता था।

बता दें कि जम्मू कश्मीर में बीजेपी ने पीडीपी से समर्थन वापस ले लिया था, जिसके बाद वहां राज्यपाल शासन लागू है। राज्यपाल शासन की मियाद पूरी होने जा रही थी, जिसके मद्देनजर राज्य में सरकार बनाने को लेकर जोड़-तोड़ चल रही थी। इसी के मुद्देनजर राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने विधानसभा भंग करने का फैसला किया।


author
अमितेष युवराज सिंह

लेखक न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया में असिस्टेंट एग्जीक्यूटिव एडिटर हैं

कमेंट करें