नेशनल

J&K: सुंदरबनी में सुरक्षाबलों से मुठभेड़ में 4 आतंकी ढेर

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
1781
| मार्च 28 , 2018 , 19:12 IST

भारतीय सुरक्षाबलों के जवानों को जम्मू कश्मीर के राजौरी जिले के सुंदरबनी में बड़ी कामयाबी मिली। सुरक्षाबलों ने 4 आतंकियों को मार गिराया। मुठभेड़ बुधवार को सुंदरबनी इलाके में हुई।

पुलिस के मुताबिक, आतंकी करीब 4 से 5 दिन पहले एलओसी के रास्ते घुसपैठ कर भारतीय सीमा में दाखिल हुए थे।सीआरपीएफ कैंप के बाहर हरिथारों से भरे बैग मिलने के बाद इलाके में सर्च ऑपरेशन चलाया गया। इसी दौरान आतंकी मारे गए। फिलहाल, कुछ और आतंकियों के सुंदरबनी के जंगलों में छिपे होने की आशंका है।

राजौरी के जिला अधिकारी शाहिद चौधरी खुद ट्वीट कर इस खबर की जानकारी दी। राजौरी में बुधवार सुबह से ही सुरक्षा बलों और कुछ आतंकवादियों के बीच मुठभेड़ शुरू हो गई थी।

इन आतंकवादियों ने चार से पांच दिन पहले एलओसी से घुसपैठ की थी और कई दिनों के तलाशी अभियान के बाद इनके सुंदरबनी तहसील में होने का पता चला था। इसके साथ ही अधिकारियों ने सीआरपीएफ के एक शिविर पर आतंकवादी हमले की खबरों को खारिज किया लेकिन ऐहतियाती उपाय के तौर पर तहसील में सभी शैक्षिक संस्थानों को बंद करने का आदेश दिया।

ये भी पढ़ें-CBSE पेपर लीक: फिर से होगा 12वीं और 10वीं का एक-एक पेपर

जंगलों में चले तलाशी अभियान के दौरान उन्हें तीन बैग भी बरामद हुए। जिसमें कुछ हथियार भी पाए गए। जबकि उनमें भारी मात्रा में आईईडी भी बरामद हुआ है।

माना जा रहा है कि ये बैग आतंकी भागते वक्त छोड़ गए। इन बैगों में खाने का सामान बरामद हुआ है। पूरे इलाके में बड़े पैमाने पर तलाशी अभियान चलाया गया है। इस ऑपरेशन में सेना की 61 राष्ट्रीय राइफल्स, 13 पंजाब, 6 जट, 126 बटालियन बीएसएफ और 72 बटालियन सीआरपीएफ के साथ ही जम्मू कश्मीर पुलिस की एसओजी शामिल हैं। वहीं खबर है कि पैरा कमांडो भी मुठभेड़ स्थल पर मौजूद हैं अगर जरूरत पड़ी तो उनकी भी मदद ली जा सकती है।

स्थानीय लोगों और सुरक्षा एजेंसियों के मुताबिक राजौरी जिले के सुंदरबनी के इलाके में 6 आतंकियों का एक दल सक्रिय है। सूत्रों के मुताबिक 5-6 आतंकियों का एक दल हाल ही में घुसपैठ करके दाखिल हुआ है। लेकिन गाइड न मिलने की वजह से वो जंगलों में ही भटक गए हैं। इस लिए वो अपने सटीक स्थान पर पहुंचने में कामयाब नहीं हो पा रहे हैं।

बता दें कि पिछले साल से जम्मू कश्मीर में भारतीय सुरक्षाबलों ने आतंकियों के खिलाफ ऑपरेशन ऑलआउट चलाए हुए है। इस अभियान के तहत पिछले साल ही 200 से ज्यादा आतंकियों को मार गिराया गया था। इस दौरान जम्मू कश्मीर में आतंक का पर्याय बने कई बड़े आतंकियों का सफाया किया गया था। इस साल जनवरी के बाद से भी कई आतंकियों का एनकाउंटर में सफाया किया जा चुका है।


कमेंट करें