नेशनल

J&K: पाक के सीजफायर उल्लंघन ने ली एक और जान, दो लोग हुए गंभीर रुप से जख्मी

आशुतोष कुमार राय, न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
263
| जनवरी 22 , 2018 , 11:29 IST

पाकिस्तान अपनी नापाक हरकतों से बाज आता नहीं दिख रहा है, पाक की तरफ से एक बार फिर सीजफायर तोड़ा गया है। रविवार रात करीब पौने आठ बजे पाकिस्तान की तरफ से फायरिंग शुरू हुई।

जम्मू के अखनूर, आर एस पुरा और कानाचक इलाके में पाकिस्तान की ओर से फायरिंग की गई। इस फायरिंग में कानाचक इलाके में एक आम नागरिक की मौत हो गई है जबकि दो लोग जख्मी हैं। गंभीर रूप से घायल होने की वजह से अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

वहीं पाकिस्तान की ओर से किए जा रहे लगातार सीजफायर उल्लंघन के बाद जम्मू-कश्मीर पुलिस ने 'रेड अलर्ट' जारी किया है। इसके साथ ही सीमावर्ती इलाकों में रहने वाले लोगों को सुरक्षित स्थानों पर भेजा जा रहा है।

गौरतलब है कि सीमा पर हो रही फायरिंग में गुरुवार से रविवार तक शहीद होने वाले सैनिकों की संख्या 11 हो गई है। शनिवार को शहीद हुए सैनिक चंदन राय उत्तर प्रदेश के चंदौली जिले के रहने वाले थे।

सीमापार से की जा रही गोलाबारी का असर यह पड़ा है कि भारत-पाकिस्तान सीमा पर स्थित अरनिया कस्बे और अन्य सीमावर्ती बस्तियों में अब वीरानी छा गई है, क्योंकि पाकिस्तानी सेना की ओर से की जा रही भारी गोलाबारी के चलते करीब 40 हजार ग्रामीण अपने घर खाली कर जा चुके हैं।

इसे भी पढ़ें:- आतंकी हाफिज पर कितनी हुई कार्रवाई, लेखा-जोखा लेने UN की टीम जाएगी पाकिस्तान

पाकिस्तानी रेंजर्स की ओर से की जा रही फायरिंग का मुंहतोड़ जवाब भारतीय सेना की ओर से भी दिया जा रहा है।

18 हजार की आबादी वाला अरनिया कस्बा वीरान नजर आता है, क्योंकि आसपास की बस्तियों में अब केवल कुछ लोग ही बचे हैं जो अपने जानवरों एवं घरों की रक्षा करने के लिए वहां रुके हैं।

खेती, स्कूली शिक्षा, मवेशी पालन और बाकी सभी कार्य जिन पर सीमा पर रहने वाले लोग निर्भर हैं वे सभी गोलाबारी के चलते बाधित हो गए हैं। जमीन पर खून के निशानों, टूटी खिड़िकयों, घायल जानवरों और दीवारों पर छर्रे के निशानों से बस्तियों में तबाही का मंजर साफ नजर आता है। 


कमेंट करें