नेशनल

जम्मू-कश्मीर में भारी बर्फबारी, सड़क-मार्ग और हवाई सेवा प्रभावित

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
1431
| फरवरी 7 , 2019 , 12:22 IST

कश्मीर घाटी में गुरुवार को ताजा बर्फबारी और मैदानी इलाकों में बारिश से जनजीवन पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ा है, कई स्थानों पर लोग बिजली के बिना घरों के अंदर ही रहने को मजबूर हैं, सड़क-मार्ग बंद अवरुद्ध हो गए हैं और उड़ान संचालन बाधित है।

श्रीनगर शहर और अन्य स्थानों पर अधिकांश लोग घर के अंदर ही हैं, क्योंकि बर्फबारी और जलभराव ने कई सड़कों को दुर्गम बना दिया था।

शहर में तड़के सुबह ताजा बर्फबारी हुई, और यहां का तापमान 0.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। पहाड़ियों से भारी बर्फबारी की सूचना मिली है। पहलगाम का तापमान शून्य से 0.6 डिग्री कम और गुलमर्ग का शून्य से 4 डिग्री सेल्सियस कम दर्ज किया गया।

बनिहाल सेक्टर में ताजा बर्फबारी और रामसो-रामबन में भूस्खलनों के कारण जम्मू-श्रीनगर राजमार्ग लगातार दूसरे दिन गुरुवार को भी बंद रहा।बुधवार को यातायात को श्रीनगर से जम्मू एकतरफा जाने की अनुमति थी, जिसे फिर से बंद कर दिया गया है।

खराब दृश्यता और भारी बर्फबारी के कारण श्रीनगर हवाई अड्डे पर गुरुवार को उड़ानों का संचालन निलंबित कर दिया गया है। श्रीगर हवाईअड्डे के अधिकारियों ने कहा, "श्रीनगर से जाने और आने वाली सभी उड़ानों को बुधवार को रद्द कर दिया गया है। आज सुबह हवाईअड्डे पर कोई भी उड़ान लैंड नहीं करेगी और न ही यहां से उड़ान भरेगी।" अधिकारी ने कहा, "दृश्यता में सुधार होने के बाद ही उड़ानों का संचालन शुरू किया जाएगा।"

घाटी के कई हिस्सों में बिजली की आपूर्ति बाधित हो गई, विशेष रूप से उत्तरी कश्मीर के इलाकों में। बिजली विभाग ने सूचित किया है कि बिजली बहाल करने की कोशिश की जा रही है।

कश्मीर के ग्रामीण विद्युतीकरण के मुख्य अभियंता काजी हशमत ने कहा, "श्रीनगर शहर में हमारी आपूर्ति सामान्य है। 33 केवी ट्रांसमिशन लाइनों में खराबी के कारण बांदीपुरा, गांदरबल और इलाकों में समस्याएं हुई हैं, लेकिन समस्या का समाधान किया जा रहा है।" उन्होंने कहा, "कर्मचारी भारी बर्फबारी के बीच काम में जुटे हैं।"

मौसम विभाग ने कहा कि जम्मू और कश्मीर में सक्रिय एक पश्चिमी विक्षोभ 24 घंटे के बाद शुक्रवार को कमजोर हो सकता है। मौसम विभाग ने कहा, "पश्चिमी विक्षोभ के सक्रिय रहने के चलते व्यापक बर्फबारी और बारिश की उम्मीद है, हालांकि, शाम को सुधार के संकेत मिलने की संभावना है।" उन्होंने कल यानि शुक्रवार से मौसम में महत्वपूर्ण सुधार होने की संभावना जताई है।

लद्दाख क्षेत्र के लेह का तापमान शून्य से 3.2 डिग्री सेल्सियस नीचे, कारगिल का शून्य से 16.4 डिग्री नीचे और द्रास का शून्य से 5.8 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया। जम्मू का न्यूनतम तापमान 9.3 डिग्री, कटरा का 7 डिग्री, बटोट का शून्य से 1.6 डिग्री नीचे, बनिहाल का 0.2 और भद्रवाह का शून्य से 0.4 डिग्री सेल्सियस नीचे रहा।


कमेंट करें