मनोरंजन

करणी सेना का आरोप, स्मृति ईरानी के दबाव में पद्मावत को समर्थन

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
805
| जनवरी 23 , 2018 , 17:12 IST

फिल्म पद्मावत को सुप्रीम कोर्ट से हरी झंडी मिल चुकी है। बता दें राजस्थान और मध्यप्रदेश सरकार की याचिका पर सुनवाई करते हुए कोर्ट ने दोनों को फटकार लगाते हुए याचिकाओं को खारिज कर दिया। जिक्से बाद अब फिल्म पूरे देश में 25 जनवरी को ही रिलीज़ होगी लेकिन कोर्ट के फैसले के बाद भी करणी सेना का विरोध रुकने का नाम नहीं ले रहा है।  

मामल यहाँ तक पहुंच गया है कि करणी सेना ने इस मुद्दे पर केंद्र सरकार पर भी निशाना साधा है। बता दें करणी सेना के सुखदेव सिंह ने मंगलवार को कहा कि हमारे देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ प्रमुख मोहन भागवत ने इस मुद्दे पर चुप्पी साध ली है। इस मामले में हम वीएचपी नेता प्रवीण तोगड़िया का तहे दिल से शुक्रिया करते हैं। 

प्रवीण तोगड़िया ने हमारे हक में आवाज़ उठाई जिक्से लिए हम उनको शुक्रिया कहते हैं। जानकारी के लिए बता दें करणी सेना ने केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी को भी निशाना बनाया है।  इस मामले में सुखदेव सिंह बोले कि ईरानी फिल्म इंडस्ट्री से आती हैं, इसलिए इस प्रकार का भेदभाव हो रहा है। इतना ही नहीं उन्होंने आगे कहा कि पीएम मोदी स्मृति ईरानी के दबाव में काम कर रहे हैं।

सुखदेव सिंह ने आगे कहा कि सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद भी हम फिल्म का विरोध करेंगे। राज्य सरकारें दोहरा मापदंड अपना रही हैं क्योंकि सेंसर बोर्ड केंद्र सरकार के अंतर्गत आता है। ऐसे में अगर वह सच में फिल्म को बैन करना चाहते हैं तो वो कर सकते थे।


कमेंट करें