नेशनल

SC के फैसले पर करणी सेना ने कहा- हॉल में जनता लगाए कर्फ्यू

icon अमितेष युवराज सिंह | 0
446
| जनवरी 18 , 2018 , 16:53 IST

सुप्रीम कोर्ट ने आज फिल्म पद्मावत के निर्माताओं की याचिका पर बड़ा फैसला सुनाया है। सुप्रीम कोर्ट ने आदेश दिए हैं कि फिल्म सभी राज्यों में रिलीज होगी। सुप्रीम कोर्ट ने रिलीज पर प्रतिबंध के गुजरात, राजस्थान और हरियाणा की सरकारों के आदेश पर गुरुवार को रोक लगा दी। फिल्म के सभी राज्यों में रिलीज होने पर कई लोगों ने तीखी प्रतिक्रिया दी है।

करनी सेना प्रमुख ने कहा- 25 जनवरी को जनता कर्फ्यू लगाएगी:

करणी सेना के प्रमुख लोकेंद्र सिंह कल्वी ने सुप्रीम कोर्ट के इस आदेश पर पलटवार करते हुए कहा कि पूरे देश के समाजिक संगठनों से अपील करूंगा कि वह पद्मावत नहीं चलनी दें। फिल्म हॉल पर जनता कर्फ्यू लगाएगी। उन्होंने कहा कि कल मुंबई में चर्चा की जाएगी।

फिल्म के प्रदर्शन पर बड़ी घोषणा की जा सकती है। करनी सेना का कहना है कि सुप्रीम कोर्ट ने हमारी भावनाओं का ध्यान नहीं रखा है। अब हम खुद इस फिल्म के खिलाफ जनहित याचिका दायर करेंगे। फिल्म का विरोध पूरे देशभर में जारी रहेगा।

बीजेपी के पूर्व नेता सूरज पाल अम्मू ने दिया बड़ा बयान:

बीजेपी के पूर्व नेता सूरज पाल अमू ने कहा है कि फिल्म पद्मावती रिलीज होगी तो देश टूटेगा। उन्होंने कहा कि सुप्रीम कोर्ट के फैसले ने लाखों-करोड़ों लोगों, लाखों-करोड़ों हिन्दुओं की भावनाओं को आहत किया है।

लोग सुप्रीम कोर्ट का सम्मान करते हैं, लेकिन ये फैसला उनके खिलाफ है। करणी सेना किसी कीमत पर फिल्म को रिलीज नहीं होने देगी। हमारा संघर्ष जारी रहेगी, चाहे मुझे फांसी लगा दो।

जीवन सिंह सोलंकी- कौन होता है सुप्रीम कोर्ट बैन हटाने वाला:

राष्ट्रिय राजपूत करणी सेना के प्रदेश सचिव जीवन सिंह सोलंकी ने कहा, 'कहीं भी हिंसा होगी उसके लिए जिम्मेदार सुप्रीम कोर्ट होगा। कौन होता है सुप्रीम कोर्ट बैन हटाने वाला'। वहीं, दूसरी तरफ रायपुर के सर्व राजपूत क्षत्रिय महासभा के प्रदेश अध्यक्ष विक्रमादित्य सिंह जूदेव ने एक बड़ा बयान देते हुए कहा है कि उनका समाज सुप्रीम कोर्ट के फैसले को नहीं मानेगा। उन्होंने यह भी कहा है कि फिल्म 'पद्मावत' के खिलाफ विरोध जारी रहेगा।

छत्तीसगढ़ में सिनेमा हॉल जलाने की चेतावनी:

छत्तीसगढ़ में फिल्म का विरोध कर रहे कुछ लोगों ने उन सिनेमा घरों को जलाने की धमकी दी है जिनमें फिल्म रिलीज होगी। प्रदर्शनकारियों ने अंतिम चेतावनी दी है। महारानी पद्मावती हमारी आन बान शान की प्रतीक हैं और अगर छत्तीसगढ़ में फिल्म लगेगी तो इसका खमियाजा भुगतना पड़ेगा। जहां पद्मावत चलेगी वो सिनेमाघर जलेगा।


author
अमितेष युवराज सिंह

लेखक न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया में असिस्टेंट एग्जीक्यूटिव एडिटर हैं

कमेंट करें