इंटरनेशनल

काठमांडू प्लेन क्रैश: पायलट की इस गलती की वजह से चली गई 50 लोगों की जान

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
1087
| मार्च 13 , 2018 , 15:19 IST

नेपाल में काठमांडू इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर लैंडिंग के दौरान हुए विमान हादसे में 50 लोगों की मौत हो गयी है। विमान बांग्लादेश की US-बांग्ला एयरलाइन का था, जिसमें पहले से ही 71 यात्री सवार थे। यह हादसा पायलट और एयर ट्रैफिक कंट्रोलर के बीच हुई लैंडिंग को लेकर कन्फ्यूज़न के वजह से हुआ। इसमें पता चला है कि प्लेन रनवे नंबर 2 की बजाये रनवे नंबर 20 पर उतर गया जिस वजह से ये हादसा हुआ।

एयरपोर्ट के प्रवक्ता ने बताया कि प्लेन लैंड होते ही फुटबॉल मैदान में जाकर गिरा, प्लेन आगे से झुका हुआ था गिरते ही उसमें धमाका हुआ और आग लगने की वजह से काफी लोगों  की मौत हो गयी। नेपाल के सूत्रों से मिली खबर से पता चला, त्रिभुवन एयरपोर्ट का एटीसी बांग्लादेशी विमान बीएस 211 और मिलिट्री विमान बुद्धा 282 के पायलट से एक साथ बात कर रहा था।

बातचीत कुछ इस तरह थी:

बीएस 211, यू आर गिवेन ए लैंडिंग क्लियरेंस टू रनवे 02

पायलट: अफर्मेटिव मैम

एटीसी: यू आर गोइंग टूवर्ड्स रनवे 20

पायलट: (क्या कहा समझ में नहीं आया) टू रनवे 02...?

एटीसी: 211 रनवे 02 क्लियर टू लैंड

बातचीत कुछ देर के लिए रुक जाती है...

कंफर्म यू आर ट्रैकिंग टुवर्ड्स रनवे 20?

पायलट: अफर्मेटिव एटीसी: अगेन बांग्ला 211 ट्रैफिक इज ऑन रनवे 02. 211 डू नाट प्रोसीड टूवर्ड्स रनवे 20 (यानी रनवे 20 की ओर ना बढ़ें)

पायलट: वी वांट टू लैंड ऑन रनवे 20ओके रनवे 20, क्लियर टू लैंड (एटीसी यह बात दूसरे प्लेन बुद्धा 282 से कह रहा है, लेकिन इसे 211 पायलट सुन लेता है।)

पायलट: आर वी क्लियर्ड टू लैंड? एटीसी: बीएस 211 आई से अगेन. रिटर्न

पीछे से चिल्लाने की आवाज आती है और थोड़ी देर की शांति।  इसके बाद प्लेन क्रैश हो जाता है।


कमेंट करें