राजनीति

बेहद गरीब परिवार में जन्मे जयराम बनेंगे हिमाचल के 'ठाकुर', 5 बार से हैं MLA

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
1159
| दिसंबर 24 , 2017 , 19:04 IST

आरएसएस की विचारधारा को मानने वाले जयराम ठाकुर का जन्म 6 जनवरी 1965 में हुआ। मंडी जिले के एक गरीब परिवार में जन्मे जयराम ठाकुर के पिता का नाम जेठूराम ठाकुर और मां का नाम डॉ. साधना ठाकुर है। जयराम ठाकुर का राजनीतिक सफर छात्र जीवन से शुरू हुआ।बेहद साधारण परिवार से आने वाले जयराम की सबसे बड़ी ताकत उनका क्षत्रिय समाज है।

विद्यार्थी जीवन से ही उन्होंने एबीवीपी का हाथ थामा और यहीं से उनका सियासी सफर भी शुरू हुआ। सरकार के वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय बगियाद से उन्होंने पढ़ाई की। जिसके बाद चंडीगढ़ में पंजाब विश्वविद्यालय से एमए किया। जयराम ठाकुर ने 1998 में पहली बार विधानसभा चुनाव जीता।

Jai-Ram-Thakur1

जिसके बाद लगातार उनकी जीत होती गई। साल 2017 में हुए हिमाचल प्रदेश के विधानसभा चुनाव में उनको पांचवी बार विधायक चुना गया। इतना ही नहीं इस बार जयराम ठाकुर हिमाचल के मुख्यमंत्री भी होंगे। जयराम ठाकुर धूमल सरकार में 2007-2012 तक ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज मंत्री भी रहे हैं।

मंडी के छत्रप कहे जाने वाले ठाकुर इस बार मंडी के सिराज से विधानसभा से विधायक चुने गए हैं।जयराम के  कद का अंदाजा इस बात से भी लगाया जा सकता है कि, इस बार उन्होंने मंडी जिले से बीजेपी को 9 सीटें जिताई हैं। हिमाचल के पूर्व सीएम प्रेम कुमार धूमल के कैबिनेट में भी ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज विभाग का कार्यभार संभाल चुके हैं जयराम ठाकुर।

Dc-Cover-hhok4d5n0smrmdqco79777tqm1-20171224144320.Medi

हिमाचल की पूर्व सीएम शांता कुमार के भी करीबी माने जाते हैं जयराम ठाकुर। जयराम ठाकुर राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ से जुड़े रहे हैं जिसके कारण उनका पलड़ा दूसरों पर भारी रहा। वह छात्र जीवन में विद्यार्थी परिषद से जुड़े रहे। उसके बाद वह भारतीय जनता युवा मोर्चा में भी शामिल हुए। इसके अलावा वह 2009 से 2013 के बीच बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष भी रह चुके हैं।

इस दौरान जयराम ठाकुर के नेतृत्व में ही बीजेपी ने प्रदेश के विधानसभा चुनाव में पहली बार पूर्ण बहुमत हासिल की थी। साल 1998 के पहले चुनाव में ही जयराम को चुचियुथ के सीमांकित निर्वाचन क्षेत्र से जीत हासिल हुई । जिसके बाद साल 2003 और 2007 में चुचियुथ विधानसभा क्षेत्र से जयराम फिर से निर्वाचित हुए।

Jairam

इसके अलावा 2012 को पंचायती राज और ग्रामीण विकास मंत्री के रूप में भी मंत्री परिषद में शामिल हुए जयराम ठाकुर। मंत्री परिषद से पहले अध्यक्ष, ग्रामीण नियोजन समिति और विभिन्न अन्य सदन समितियों के सदस्य बने रहे ठाकुर।

दिसंबर, 2012 में एक बार फिर और लगातार चौथे बार कार्यकाल के लिए राज्य विधान सभा में चुने गए जयराम ठाकुर।27 दिसंबर को सीएम पद के लिए शपथ लेंगे जयराम ठाकुर, जिसके बाद वें हिमाचल के 13वें मुख्यमंत्री बनेंगें।


कमेंट करें