खेल

सहवाग ने कोहली पर साधा निशाना, कहा -दूसरे टेस्ट में विफल होते हैं तो खुद को करें टीम से बाहर

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
267
| जनवरी 14 , 2018 , 11:03 IST

साउथ अफ्रीका के खिलाफ दूसरे टेस्ट मैच के लिए हुए टीम चयन पर विवाद बढ़ता नजर आ रहा है। सुनील गावस्कर के बाद अब विरेंद्र सहवाग ने भी कप्तान विराट कोहली के फैसले पर सवालिया निशान लगा दिय़ा है।

पूर्व विस्फोटक सलामी बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग ने टीम चयन पर भारतीय कप्तान पर तीखा हमला करते हुए कहा कि विराट कोहली अगर दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ दूसरे टेस्ट के असफल रहते हैं, तो उन्हें खुद को अंतिम एकादश से बाहर कर देना चाहिए।

सहवाग का यह तंज ओपनिंग बल्लेबाज शिखर धवन और भुवनेश्वर का पक्ष लेते हुए किया गया है। पहले टेस्ट में असफल रहने की वजह से ओपनिंग बल्लेबाज शिखर धवन को दूसरे टेस्ट से बाहर का रास्ता दिखा दिया गया है। उनकी जगह टीम में केएल राहुल को शामिल किया गया है।

Vv-1510669339

आपको बता दें कि टीम इंडिया के पूर्व कप्तान सुनील गावस्कर ने भी आज दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ दूसरे क्रिकेट टेस्ट में भारतीय टीम के चयन पर सवाल उठाते हुए कहा कि ओपनिंग बल्लेबाज शिखर धवन के सिर पर हमेशा तलवार लटकी रहती है।

सहवाग ने एक चैनल से बातचीत करते हुए कहा, ‘‘शिखर धवन को महज एक टेस्ट में विफल होने के बाद और भुवनेश्वर को बिना किसी कारण के बाहर करने के विराट कोहली के फैसले को देखते हुए अगर वह सेंचुरियन में अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पाते हैं, तो उन्हें तीसरे टेस्ट की अंतिम एकादश से खुद को बाहर कर लेना चाहिए।’’

उन्होंने कहा, ‘‘भुवनेश्वर को बाहर करने का फैसला ठीक नहीं था। हालांकि इशांत शर्मा को अपनी लंबाई से फायदा मिल सकता है, इससे विराट कोहली ने भुवनेश्वर कुमार के आत्मविश्वास को गिराया है। ’’

Kohli-Out-Pune
सहवाग ने कहा कि वे किसी अन्य गेंदबाज के बदले इशांत को खिला सकते थे। भुवनेश्वर ने केपटाउन में अच्छा प्रदर्शन किया था और इस तरह से उन्हें बाहर करना उचित नहीं है।

इसे भी पढ़ें :- सेंचुरियन टेस्ट पहला दिन: 6 विकेट पर दक्षिण अफ्रीका ने बनाए 269 रन

इससे पहले गावस्कर ने कहा, ‘मेरा मानना है कि शिखर धवन बलि का बकरा बनाया गया है और उसके सिर पर हमेशा तलवार लटकी रहती है। बस एक खराब पारी के बाद उसे टीम से बाहर कर दिया जाता है।'

गावस्कर ने कहा, ‘मेरी समझ से परे है कि ईशांत को भुवनेश्वर की जगह क्यो चुना गया। ईशांत टीम में शमी या बुमराह की जगह ले सकता था, लेकिन भुवनेश्वर को बाहर रखना समझ से बाहर है'।


कमेंट करें