नेशनल

J&K: कभी आतंकी थे लांसनायक नजीर अहमद वानी, देश के लिए दिया सर्वोच्च बलिदान

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
1442
| नवंबर 27 , 2018 , 11:26 IST

जम्मू कश्मीर के शोपियां में आतंकियों और सेना के बीच हुई मुठभेड़ रविवार को लांस नायक नजीर अहमद वानी शहीद हो गए थे। नजीर अहमद वानी को पूरे सम्मान के साथ अंतिम विदाई दी गई। रविवार को हुए एनकाउंटर में सेना ने 6 आतंकियों के मार गिराया था, और नजीर अहमद वानी शहीद हो गए थे।

लांस नायक नजीर अहमद वानी पहले कुद एक आतंकवादी थे। लेकिन बाद में उन्होंने आत्मसमर्पण कर दिया। उसके बाद नजीर अहमद ने साल 2004 में टेरिटोरियल आर्मी ज्वाइन की। आर्मी ने वानी को सच्चा सैनिक बताया है। उन्हें 2007 और इसी साल अगस्त में वीरता के लिए सेना मेडल से सम्मानित किया गया था।

Nazir-ahmad-wani-shopian-100-1543295385लांस नायक नजीर अहमद वानी कुलगाम के चेकी अश्मूाजी गांव के रहने वाले थे। बता दें कि दक्षिण कश्मीर में स्थित कुलगाम जिला आतंकवादियों का गढ़ माना जाता है। सेना के प्रवक्ताल ने बताया कि लांस नायक नजीर अहमद वानी के परिवार में उनकी पत्नी और दो बच्चे हैं।

Nnn

राजकीय सम्मान के साथ अंतिम विदाई

लांस नायक नजीर अहमद वानी 2004 में उन्होंने आर्मी ज्वाइन की। टेरिटोरियल आर्मी की 162वीं बटालियन से उन्होंने करियर की शुरुआत की। सोमवार को अंतिम संस्कार के दौरान उनके पार्थिव शरीर को तिरंगे में लपेटा गया और 21 बंदूकों की सलामी दी गई।


कमेंट करें