राजनीति

मरीना बीच पर ही बनेगी करुणानिधि की समाधि, मद्रास कोर्ट ने दी अनुमति

शुभा सचान , न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
2259
| अगस्त 8 , 2018 , 11:13 IST

तमिल राजनीति के प्रणेता एम करुणानिधि की मौत के बाद उनको दफनाने को लेकर भी विवाद हो गया। करुणानिधि को मरीना बीच पर दफनाने से इनकार करने पर पार्टी और उनके समर्थकों ने मद्रास हाईकोर्ट का दरवाजा खटखटाया। पार्टी की मांग थी कि उन्हें चेन्नई के मशहूर मरीना बीच पर दफनाया जाए और उनका समाधि स्थल बनाया जाए। लेकिन तमिलनाडु सरकार ने ऐसा करने से इनकार किया है। इसी को लेकर बुधवार सुबह मद्रास हाईकोर्ट में सुनवाई हुई। हालांकि कोर्ट ने करुणानिधि के पार्थिव शरीर को मरीना बीच में दफनाने की अनुमति दे दी है। 

कोर्ट में सुनवाई के दौरान तमिलनाडु सरकार ने डीएमके की मांग के खिलाफ हलफनामा दिया था। सरकार की ओर से कहा गया था कि हमने दो एकड़ जमीन और राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार करने का वादा किया है। लेकिन डीएमके नेताओं का कहना है कि यदि जयललिता को मरीन बीच में दफनाया गया था तो फिर करुणानिधि को क्यों नहीं?

Karunanidhi tricolour

इस मसले पर मंगलवार रात हाईकोर्ट के मुख्य न्यायाधीश के घर पर सुनवाई शुरू हुई थी, जिसे सुबह तक के लिए स्थगित कर दिया गया था।

करुणानिधि के पार्थिव शरीर को मरीना बीच पर दफनाने को लेकर कई नेताओं ने भी मांग का समर्थन किया था।  कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी समेत कई विपक्ष के नेता भी यही मांग कर रहे थे।


कमेंट करें