इंटरनेशनल

फिलीपींस के मॉल में भीषण आग, 37 लोगों की मौत

icon अमितेष युवराज सिंह | 0
579
| दिसंबर 24 , 2017 , 13:26 IST

फिलीपींस के एक शॉपिंग मॉल में शनिवार को भीषण आग लग गई जिसमें करीब 37 लोगों के मरने की आशंका है। अधिकारियों ने रविवार को कहा कि अग्निशमन कर्मी 16 घंटे पहले लगी आग को बुझाने का प्रयास कर रहे हैं। समाचार एजेंसी सिन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार, फिलीपींस के राष्ट्रपति रॉड्रिगो दुतेर्ते ने घोषणा कर कहा कि अग्निशमन कर्मियों ने कई लोगों के मरने की आशंका जताई है। 



कैथोलिक बिशॉप कांफ्रेंस ऑफ द फिलीपींस (सीबीसीपी) ने अध्यक्ष आर्कबिशॉप रोमुलो वेल्स ने राष्ट्रपति के हवाले से बताया, "इलाके में मौजूद अधिकारियों के अनुसार स्थिति के भयावह होने के कारण किसी के जीवित होने की संभावना बहुत कम है।"

फिलीपींस राष्ट्रपति के बेटे पाओलो दुतेर्ते ने अपने फेसबुक पोस्ट में लिखा कि घटनास्थल पर बचने वालों की उम्मीद बिल्कुल नहीं है। बता दें कि फिलीपींस टेमबिन तूफान को भी झेल रहा है और पिछले दो दिन में यह दूसरी बड़ी घटना है। इससे पहले शनिवार को फिलीपींस में तेज बारिश के कारण मलबा धंसने की वजह से 90 लोगों की मौत हो गई थी।

इस घटना को लेकर पुलिस के एक अधिकारी राल्फ कैनोय ने बताया कि चार मंजिला एनसीसीसी मॉल में आग लग गई और लोग अंदर फंस गए थे। इसकी चौथी मंजिल में एक कॉल सेंटर भी है, जो 24 घंटे चलता है और उन लोगों को आग पता नहीं चलने के कारण वे अंदर ही फंस गए, जिसमें ज्यादातर लोग इस हादसे का शिकार हुए है।

उन्होंने कहा, आग सबसे पहले तीसरी मंजिल पर लगी थी, जहां कपड़े, लकड़ी का फनीर्चर और प्लास्टिक के बर्तन थे जिससे आग तुरंत ही फैल गई और उस पर काबू पाने में भी काफी समय लग रहा है। उन्होंने कहा कि जांचकतार्ओं को आशंका है कि कॉल सेंटर में फंसे सभी लोग मारे गए हैं। क्योंकि यहां चौबीसों घंटे काम चलता है और हो सकता है कि कर्मचारियों को आग लगने के बारे में पता ही नहीं लग चल हो।

राष्ट्रपति रोड्रिगो दुतेर्ते ने भी कल रात अपने एक सहयोगी के साथ मॉल का दौरा किया और पीड़ितों के रिश्तेदारों के प्रति संवेदना जाहिर की। राष्ट्रपति रोड्रिगो दुतेर्ते 2  दशक तक डेवाओ के मेयर रहे हैं और इसी शहर में रहते हैं।


author
अमितेष युवराज सिंह

लेखक न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया में असिस्टेंट एग्जीक्यूटिव एडिटर हैं

कमेंट करें